पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मनमानी:स्कूल खुलते ही प्राइवेट स्कूल करने लगे एडवांस फीस की डिमांड, रेगुलेटरी कमेटी को शिकायत दी

गुरुग्राम13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने स्कूलों की मनमानी की शिकायत की। - Dainik Bhaskar
हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने स्कूलों की मनमानी की शिकायत की।
  • एडवांस ट्यूशन फीस, ट्रांसपोर्ट, एनुअल चार्ज, डेवलपमेंट आदि फंडों में फीस मांग रहे स्कूल

स्कूल खुलते ही निजी स्कूल पिछली व अगली एडवांस फीस मांगने लगे हैं। जिसे लेकर अभिभावक संघ ने फीस एंड फंड रेगुलेटरी कमेटी (एफएफआरसी) को शिकायत की है। हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने स्कूल प्रबंधकों पर आरोप लगाया है कि स्कूल खुलते ही वे अभिभावकों से पिछली फीस के साथ साथ जुलाई, अगस्त, सितंबर की एडवांस ट्यूशन फीस, ट्रांसपोर्ट, एनुअल चार्ज, डेवलपमेंट आदि फंडों में फीस मांग रहे हैं। इसके चलते मंच ने चेयरमैन एफएफआरसी कम मंडल कमिश्नर गुड़गांव से कहा है कि वे उनको मिले अधिकार का प्रयोग करते हुए जिले के सभी प्राइवेट स्कूलों के पिछले 5 साल के खातों की जांच कराएं। जिससे पता चल सके कि स्कूल घाटे में या फायदे में हैं। उनके पास कितना रिजर्व व सरप्लस फंड है।

मंच प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा ने कहा है कि स्कूल संचालकों ने मनमानी फीस वसूलने के लिए ही हरियाणा सरकार पर दबाव डालकर स्कूल खुलवाए हैं। अभिभावक बिना बढ़ाई गई ट्यूशन फीस मासिक आधार पर दे रहे हैं और आगे भी देने को तैयार हैं लेकिन स्कूल प्रबंधक एनुअल चार्ज, ट्रांसपोर्ट फीस, डेवलपमेंट फंड,आईटी, एग्जाम आदि फंडों में भी फीस मांग रहे हैं। दूसरा मासिक आधार की जगह एडवांस में तिमाही फीस मांग रहे हैं, जो पूरी तरह से गैरकानूनी है। गुड़गांव के सचिव दिलीप गुप्ता ने बताया कि प्रबंधक स्कूल खुलने के अवसर का फायदा मनमानी फीस वसूलने के लिए कर रहे हैं। जिला शिक्षा अधिकारी इंदू बोकन ने बताया कि निजी स्कूलों में फीस प्रक्रिया को लेकर निदेशालय द्वारा भी कोई भी अलग से आदेश जारी नहीं किए गए हैं।

खबरें और भी हैं...