• Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Gurgaon
  • Complaint Against Ecogreen On CM Window, Then Six Youths Beat Up Badly, Allegations Against The Relatives Of The Corporation Councilor, Case Registered

ईको ग्रीन और अधिकारियों की मिलीभगत का आरोप:इकोग्रीन के खिलाफ सीएम विंडो पर दी शिकायत तो छह युवकों ने बुरी तरह पीटा, निगम पार्षद के परिजनों पर आरोप, केस दर्ज

गुरुग्राम17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी दो बार दे चुका जान से मारने की धमकी। - Dainik Bhaskar
आरोपी दो बार दे चुका जान से मारने की धमकी।
  • इकोग्रीन को ठेका दिए जाने के बाद पार्षद के परिजनों द्वारा वसूली करने का किया था विरोध
  • आरोपी दो बार दे चुका जान से मारने की धमकी

वार्ड-2 से पार्षद के परिजनों द्वारा शंखनाथ फाउंडेशन के अध्यक्ष पर सीएम विंडो पर शिकायत करने को लेकर हमला करने का मामला सामने आया है। आरोप है कि उसे दो बार ना केवल जान से मारने की धमकी दी, बल्कि छह अज्ञात युवकों ने उसके ऑफिस पर पहुंचकर बुरी तरह पीटा, जिसके हाथों में व पैरों पर गंभीर चोटें आई हैं। पालम विहार थाना में शिकायत देकर देव कुमार निवासी पालम विहार ने बताया है कि वह शंखनाथ फाउंडेशन एनजीओ का अध्यक्ष है।

नगर निगम द्वारा इकोग्रीन को कूड़ा उठाने का ठेका वर्ष 2039 तक दिया हुआ है। लेकिन गुड़गांव के वार्ड दो पालम विहार एक्सटेंशन में कूड़ा उठाने का काम निगम पार्षद शकुंतला के परिवार वाले करते हैं। जो कूड़ा उठाने के लिए आसपास के लोगों से हर महीने 250 रुपए की वसूली करता है। इसी को लेकर देव कुमार ने सीएम विंडो पर शिकायत दी थी।

पुलिस को दी शिकायत में देव कुमार ने बताया कि कूड़ा उठाने का काम शकुंतला यादव के जेठ का लड़का नवीन यादव यह सब नगर निगम के कुछ अधिकारी व प्रशासन की मिलीभगत से कर रहा है। शिकायत में आरोप है कि आरोपी उसकी आवाज को दबाने के लिए नवीन यादव की ओर से उसे जान से मारने की धमकी दे चुका है।

पीड़ित देवकुमार ने बताया कि आरोपी नवीन यादव उसके ऑफिस में पिस्टल लेकर आया और उसे व उसके परिवार को जान से मारने की धमकी दी। हालांकि बाद में नवीन यादव ने माफी मांग ली, जिससे वह थाने गया लेकिन शिकायत पुलिस को नहीं दी।

उसके कुछ दिन बाद फिर से आरोपी ने उसे धमकी दी कि जो इकोग्रीन की शिकायत सीएम विंडो पर की हुई है, उसे वापस ले नहीं तो जान से मार देंगे। जिसकी थाने में जांच की जा रही है। गत 4 अक्टूबर को एमसीजी के ज्वाइंट कमिश्नर हरिओम अत्री ने पत्र देकर शंखनाथ फाउंडेशन के प्रतिनिधियों को बुलाया। वहां पर हमने निजी व अवैध ठेकेदार नवीन यादव की अवैध वसूली को कूड़ा उठाने के नाम पर थी, जिसमें इको ग्रीन की मिलीभगत थी।

निगम पार्षद शकुंतला यादव के साक्ष्य भी दिखाए गए। गत गुरुवार को जब वह सुबह ऑफिस के बाहर सफाई कर रहा था तो अचानक तीन बाइक पर सवार होकर छह युवक आए और एक ने हाल-चाल पूछा और दोनों तरफ से उस पर डंडों व रॉड़ से हमला कर दिया। ये सभी निजी ठेकेदार नवीन यादव व उसके सहयोगियो कि मिलीभगत से हमला व मारपीट की गई है। पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...