पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना के साथ डेंगू का डंक:शहरी क्षेत्र में लगातार फैल रहा संक्रमण, 24 घंटे में जिले में मिले 324 नए केस और 179 पेशेंट ठीक हुए

गुड़गांवएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दो नए केस मिले, अब तक 37 लोग आ चुके हैं डेंगू की चपेट में

गुड़गांव में कोरोना संक्रमण कम होने की बजाय बढ़ गया है। जिला के शहरी क्षेत्र में तेजी से केस बढ़ने लगे हैं। एक तरफ जहां मौसम बदलने से केस बढ़ने के आसार हो गए हैं, वहीं त्यौहार के सीजन में सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क लगाना भी लोगों ने छोड़ दिया है। दूसरी ओर अब डेंगू का डंक भी लोगों को बीमार करने लगा है।

गुरुवार को डेंगू के दो नए केस मिले हैं। जबकि अब तक डेंगू की चपेट में 37 लोग आ चुके हैं। वहीं गुरुवार को गुड़गांव में 31 दिन बाद कोरोना के सबसे अधिक 324 नए केस मिले, जबकि 179 पेशेंट ठीक होकर घर लौट गए। ऐसे में एक्टिव केस बढ़कर 2568 हो गए। वहीं एक पेशेंट ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को 3532 लोगों की सैंपलिंग व टेस्टिंग की। वहीं अक्टूबर महीने के 23 दिन में ही 66 हजार से अधिक लोगों की सैंपलिंग व टेस्टिंग की जा चुकी है। जिला के शहरी क्षेत्र में तेजी से पॉजिटिव केस मिलने से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी चिंतित हैं। गुड़गांव के निगम क्षेत्र में अब तक 22451 केस मिल चुके हैं। जबकि ग्रामीण एरिया में मात्र 4049 केस मिले हैं, जो मात्र 20 फीसदी हैं।

इसके अलावा मौतों का आंकड़ा भी लगातार बढ़ रहा है। गुरुवार को भी एक पेशेंट ने दम तोड़ दिया। ऐसे में कोरोना से कुल मौत का आंकड़ा बढ़कर 196 हो गया। वहीं गुरुवार को जहां ग्रामीण क्षेत्र पटौदी, सोहना व फर्रुखनगर में कुल 37 केस मिले, जबकि शहरी क्षेत्र में कुल 287 केस सामने आए।

लोग इस मौसम में स्वास्थ्य के प्रति ज्यादा संवेदनशील रहें

एक तरफ जहां कोरोना संक्रमण बेकाबू हो रहा है। वहीं अब जिला में डेंगू ने इस बार बीते साल का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया है। हाल ही में डेंगू के दो और मरीज मिलने से कुल संख्या 37 हो गई। जबकि बीते साल 2019 में डेंगू के सिर्फ 22 मामले ही सामने आए थे। जिन दो मरीजों में हाल ही में स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू की पुष्टि की है, उनमें से एक राजीव नगर और दूसरा न्यू पालम विहार का निवासी है। डाक्टरों के मुताबिक डेंगू पीड़ित मिले सभी मरीज अब इलाज कराकर स्वस्थ हो चुके हैं।

चिकित्सकों का कहना है कि मरीजों पर इस वर्ष बीमारियों की दोहरी मार पड़ रही है। डेंगू और मलेरिया के सीजन में कोरोना संक्रमण ने भी लोगों की सेहत पर शिकंजा कसा हुआ है। इन तीनों बीमारियों के लक्षण एक जैसे हैं। इसके चलते शुरूआती लक्षणों के आधार पर यह पता लगाना बेहत मुश्किल रहता है कि मरीज किस बीमारी से पीड़ित है।

जांच के बाद ही इसकी पुष्टि हो पाती है। इन बीमारियों से संबंधित लक्षणों वाले बड़ी संख्या में संदिग्ध मरीजों का सरकारी व निजी अस्पतालों में इलाज चल रहा है। चिकित्सकों ने हिदायत दी है कि लोग इस मौसम में अपने स्वास्थ्य के प्रति ज्यादा संवेदनशील रहें। जिससे कि वह बीमारियों से बचे रह सकें।

4600 से अधिक लोगों को दिए जा चुके नोटिस
इस सीजन में स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की टीमें मिलकर अब तक 10 लाख 81 हजार से ज्यादा घरों में मच्छरों के पनपने वाले लार्वा की जांच भी कर चुकी हैं। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. सुधा गर्ग ने बताया कि लार्वा मिलने पर अभी तक 4600 से ज्यादा लोगों को नोटिस भी जारी किए जा चुके हैं। मलेरिया के इस साल अब तक चार कंफर्म मामले ही सामने आए हैँ।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपका कोई भी काम प्लानिंग से करना तथा सकारात्मक सोच आपको नई दिशा प्रदान करेंगे। आध्यात्मिक कार्यों के प्रति भी आपका रुझान रहेगा। युवा वर्ग अपने भविष्य को लेकर गंभीर रहेंगे। दूसरों की अपेक्षा अ...

और पढ़ें