श्रमिकों को तौफा:मानेसर में रखी 500 बेडेड ईएसआईसी अस्पताल की आधारशिला, आम लोगों को भी मिलेंगी ईलाज की सुविधाएं

गुड़गांव4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मानेसर में ईएसआईसी अस्पताल की आधारशिला - Dainik Bhaskar
मानेसर में ईएसआईसी अस्पताल की आधारशिला
  • गुरूग्राम के अलावा 5 अन्य स्थानों पर भी बनेंगे ईएसआई अस्पताल
  • पानीपत में 200 बेड के ईएसआई अस्पताल की मांग

गुड़गांव जिला के मानेसर में बनने वाले कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआईसी) के 500 बेड के अस्पताल में श्रमिकों के साथ-साथ आम लोगों को भी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होगी और मानेसर में नर्सिंग कॉलेज भी खोला जाएगा। ये घोषणाएं 13 फरवरी को आईएमटी मानेसर में ईएसआईसी के 500 बेड के अस्पताल के शिलान्यास अवसर पर की गई। इस कार्यक्रम में मनोहर लाल मुख्य अतिथि थे जबकि भूपेन्द्र यादव कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे थे। आईएमटी मानेसर में 500 बेड का यह ईएसआईसी अस्पताल लगभग 8 एकड़ भूखंड पर बनेगा। इस अस्पताल के निर्माण पर 500 करोड़ रुपए से अधिक की लागत आएगी, जिसमें लोगों को आपातकालीन, ओपीडी, आईसीयू के साथ उच्च स्तरीय सुविधाएं दी जाएंगी। गुरूग्राम जिला के अलावा इस अस्पताल से रेवाड़ी, नूंह और आस-पास के जिलों के लोगों को भी लाभ होगा।

मुख्यमंत्री ने मानेसर के साथ ही गुरूग्राम में भी बीमित कामगारों के पंजीकरण के आधार पर 500 बेड का ईएसआई अस्पताल मंजूर करने के लिए केन्द्रीय मंत्री के समक्ष मांग रखी। उन्होंने गुरूग्राम के मानेसर में ईएसआईसी का नर्सिंग कॉलेज खोलने के प्रस्ताव को स्वीकृत करने पर केन्द्रीय मंत्री भूपेन्द्र यादव का आभार जताया और आश्वस्त किया कि इस कॉलेज के लिए राज्य सरकार 5 एकड़ भूमि की पहचान करके जल्द उपलब्ध करवाएगी।

गुरूग्राम के अलावा 5 अन्य स्थानों पर भी बनेंगे ईएसआई अस्पताल

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने बताया कि हरियाणा के हिसार में 100 बेड का ईएसआई अस्पताल बनेगा और रोहतक, सोनीपत, करनाल तथा बहादुरगढ़ में ईएसआई अस्पताल खोलने के लिए केन्द्रीय मंत्रालय की तकनीकी टीम ने निरीक्षण कर लिया है। इसके अलावा, बावल में 100 बेड का ईएसआई अस्पताल खोलने के लिए टेंडर हो चुके हैं। उन्होंने यह भी कहा कि भविष्य में किलोमीटर तथा बीमित व्यक्तियों की संख्या के आधार पर ईएसआईसी के अस्पताल खोले जाएंगे।गुरूग्राम के ईएसआई अस्पताल में जो भी मरम्मत तथा डॉक्टरों आदि की आवश्यकता होगी, उसे पूरा किया जाएगा।

पानीपत में 200 बेड के ईएसआई अस्पताल की मांग

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने इस अवसर पर स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर बनाने संबंधी अपने विचार रखें। उन्होंने कहा कि ईएसआईसी को अपना हॉस्पीटल स्ट्रक्चर बढ़ाना चाहिए और अगले वित वर्ष में टारगेट तय करें कि जहां-जहां जमीन उपलब्ध है वहां पर अस्पताल अथवा डिस्पेंसरी खोली जाएं। हरियाणा में पानीपत हैंडलूम का हब है और वहां पर ईएसआई का 75 बेड का अस्पताल है। पानीपत में एक लाख 60 हजार बीमित व्यक्ति पंजीकृत है और ईएसआई का नियम के अनुसार पानीपत में भी 200 बेड का अस्पताल बनाया जाए।