अमानत में खयानत:40 हजार रुपए वापस मांगने पड़े महंगे, महिला के साथ की मारपीट

गुरुग्राम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पडोसी के घर आया था आरोपी, बीच बचाव में आए पड़ोसियों को भी पीटा
  • सेक्टर-14 थाना पुलिस ने किया केस दर्ज़

अपने रुपए वापस मांगना एक महिला को महंगा पड़ गया। महिला ने जैसे ही अपने 40 हजार रुपए वापस मांगे तो आरोपी ने उस पर हमला कर दिया। इस दौरान बीच बचाव में आए पड़ोसी को भी आरोपी ने नहीं बख्शा और उसके साथ ही मारपीट की। महिला को आरोपी ने जान से मरने की धमकी भी दी। सेक्टर-14 थाना पुलिस ने केस दर्ज़ कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक, सेक्टर-17 ए निवासी जया भारद्वाज ने बताया कि कुछ महीने पहले उसकी मुलाकात सेक्टर-12 निवासी धर्मेंद्र व उसके परिवार से हुई थी। उसका धर्मेंद्र के काफी अधिक आना जाना हो गया। धर्मेंद्र ने दोस्ती का फायदा उठाते हुए कुछ समय पहले जया से 40 हजार रुपए उधार ले लिए। जल्द ही रुपए वापस लौटाने का आश्वासन दिया था। कई बार मांगने के बाद भी धर्मेंद्र ने उसे रुपए नहीं लौटाए और आनाकानी करने लगा। आरोप है कि गत 16 नवंबर को धर्मेंद्र जया के पड़ोस में रहने वाली सुनीता के घर पर आया हुआ था। इस पर जया सुनीता के घर चली गई और धर्मेंद्र से 40 हजार रुपए वापस मांगने लगी। इसी बात पर धर्मेंद्र गुस्से में आ गया और जया को बेरहमी से पीटने लगा। मारपीट देखकर सुनीता का बेटा अजय बीच-बचाव में आया, तो आरोपी ने अजय को भी पीटा। उसके बाद आरोपी उन्हें जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गया। पुलिस ने बताया कि केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जल्द आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा।

सिक्योरिटी गार्ड को बचाने गई महिला से मारपीट

बादशाहपुर थाना पुलिस को दी शिकायत में राजवती देवी ने बताया कि 14 नवंबर की देर रात वह घर पर थी। घर के बाहर से उन्हें शोर सुनाई देने पर वह बाहर गई तो देखा कि राकेश यादव, अमित व उनके 3 साथी सिक्योरिटी गार्ड को पीट रहे है। शोर सुनकर राजवती का बेटा व पड़ोस में रहने वाली सविता भी बाहर आ गई, जिन्होंने मिलकर गार्ड को बचने का प्रयास किया। आरोप है की उन सभी ने मिलकर तीनों को भी पीटा, जिन्हे अन्य ग्रामीणों ने बचाया। ग्रामीणों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने केस दर्ज़ कर जांच शुरू कर दी।

खबरें और भी हैं...