सुसाइड का मामला:कुकर्म से आहत हेल्पर ने लगाई फांसी, मौत, पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज

गुड़गांव4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कुकर्म से आहत एक हेल्पर ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलते ही बिलासपुर थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने मौके से सुसाइड नोट बरामद किया, जिसमें मृतक ने चार लोगों पर कुकर्म करने का आरोप लगाया था। मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कुकर्म की पुष्टि होने के बाद बिलासपुर थाना पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

पुलिस के अनुसार नूंह निवासी एक व्यक्ति ने बताया कि उनका छोटा भाई बिलासपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत हसन के कार गैरेज पर हेल्पर था। गत 26 जुलाई को उन्हें हसन ने सूचना दी कि उनके भाई ने गैरेज के गार्टर से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। इस पर वह मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने शव को नीचे उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जांच के दौरान पुलिस को मौके पर एक बिलबुक मिली जिसमें मृतक ने अपने साथ हुए कुकर्म के बारे में लिखा था।

पुलिस के मुताबिक, मृतक ने सुसाइड नोट में बताया था कि उसके साथ नूंह निवासी शोएब, सलमान, मोहिन व भरतपुर निवासी मुबारिक ने कुकर्म किया है। इससे आहत होकर ही वह अपनी जीवन लीला समाप्त कर रहा है। पुलिस ने यह सुसाइड नोट कब्जे में ले लिया और शव का गत 27 जुलाई को पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया।

अब 5 अगस्त को चिकित्सकों ने पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट सौंपी है। फॉरेंसिक एक्सपर्ट ने रिपोर्ट में मृतक के साथ कुकर्म होने की पुष्टि की है। बिलासपुर थाना प्रभारी का कहना है कि मामले में आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। जांच के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...