एमटीपी बेचते दो गिरफ्तार:दिल्ली व गुरुग्राम समेत एनसीआर के सप्लायर देते थे कोख के कत्ल का सामान; 750 रुपए में करते थे सौदा

गुरुग्राम2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर-5 थाना पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। - Dainik Bhaskar
सेक्टर-5 थाना पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
  • सूचना के आधार पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छापेमारी कर दो आरोपी पकड़े

कोख में पल रहे गर्भ का कत्ल करने के लिए दवा देने वाले डॉक्टर व फार्मासिस्ट को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने काबू किया है। टीम ने दोनों के कब्जे से 10 एमटीपी किट बरामद की हैं। सेक्टर-5 थाना पुलिस ने डिप्टी सिविल सर्जन डाॅ. प्रदीप कुमार की शिकायत पर केस दर्ज कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग की टीम इस गिरोह के अन्य सदस्यों की तलाश कर रही है।

डाॅ. प्रदीप कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि शीतला कॉलोनी में गर्भपात किए जाने के लिए दवाएं बिक रही हैं। यहां दो डाॅक्टरों ने क्लीनिक बनाए हुए हैं, जिन पर यह गोरखधंधा किया जा रहा है। इस पर डिप्टी सिविल सर्जन अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और बोगस कस्टमर बनाकर मौके पर भेजा गया। जांच के दौरान मैसर्स खान हेल्थ क्लीनिक डी ब्लॉक शीतला कॉलोनी पहुंचे। जहां जांच के दौरान उन्हें मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेगनेंसी (एमटीपी) किट मिली। इसके साथ ही टीम ने मैसर्स शिवा फार्मेसी विद क्लीनिक ए ब्लॉक शीतला कॉलोनी में छापा मारा जिसके पास भी एमटीपी किट बरामद हुई।

उन्होंने बताया कि खान क्लीनिक से अमरोहा (मुरादाबाद) उत्तर प्रदेश निवासी डॉ. मोहम्मद ओवैसी खान को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 9 एमटीपी किट बरामद की गई। वहीं, शिवा फार्मेसी विद क्लीनिक से डॉ सुनील कुमार को गिरफ्तार कर एक किट बरामद की गई। डा. प्रदीप ने बताया कि पूछताछ में उन्होंने बताया है कि उन्हें यह किट दिल्ली व गुरुग्राम से दवा सप्लायर ने लाकर दी थी। इन किट को वह 750 रुपए प्रति किट के अनुसार बिक्री करते थे। आरोपी सुनील फार्मेसी का कार्य करता है। दोनों आरोपियों की डिग्री की भी जांच की जा रही है।

डाॅ. प्रदीप कुमार ने बताया कि इन किट का इस्तेमाल गर्भ में पल रहे गर्भ की हत्या करने के लिए प्रयोग किया जाता है जिसकी बिक्री पर पाबंदी लगी हुई है। इन दोनों के पास ही इन किट को बेचने की कोई अनुमति नहीं है। सेक्टर-5 थाना पुलिस को शिकायत देकर केस दर्ज कराया गया है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं...