पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई गाइडलाइन्स:कंटेंनमेंट जोन में अब डेंटल क्लीनिक खोले जाने पर भी लगी रोक

गुड़गांवएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • रेड जोन में केवल इमरजेंसी सेवाएं ही दे सकेंगे

मिनिस्टरी ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर ने महामारी से बचने के लिए डेंटल क्लीनिक के लिए गाइडलाइन जारी की है। मंगलवार को जारी गाइडलाइन के अनुसार कंटेंनमेंट जोन में डेंटल क्लीनिक पूरी तरह से बंद रहेंगे। इसके अलावा ऑरेंज और ग्रीन जोन में क्लीनिक खुल सकते है लेकिन इमरजेंसी न हो तो कोई डेंटल प्रोसिजर नहीं करेंगे। रैड जोन में केवल इमरजेंसी सेवाएं ही दे सकेंगे हालांकि सभी जोन में टेलीमेडिसिन जारी रहेगी। इसी के साथ डॉक्टरों को ग्लब्स,मास्क,सैनिटाइजर और अन्य जरूरी सावधानियां बरतनी होगी। एडवाइजरी में कहा गया है कि डेंटल सर्जन और स्टाफ को कोरोना संक्रमण का खतरा बहुत ज्यादा होता है,क्योंकि दांत के इलाज के वक्त डॉक्टरों को मरीजों के क्लोज कॉन्टैक्ट में आना होता है। मरीजों के मुंह से निकलने वाला सलाइवा,खून और ड्रॉप-लेट्स से भी संक्रमण फैल सकता है।

इंडियन डेंटल एसोसिएशन (आईडीए) के डिस्ट्रिक्ट सैक्रेटरी डॉ.मनदीप बताते है कि जिला में करीब 250 डेंटल सर्जन एसोसिएशन में पंजीकृत है। सभी को गाइडलाइन की सूचना दे दी गई है। इसमें बताया गया है कि कई एसिंप्टोमैटिक मरीज जिनमें बीमारी के लक्षण नहीं दिखते, वह वायरस को एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक पहुंचा सकते हैं।
इधर, कोरोना वायरस से संक्रमित छह केस मिले
गुड़गांव में बुधवार को कोरोना वायरस के छह नए पॉजिटिव मामले मिले। अब तक पॉजिटिव मिले मामलों की कुल संख्या 226 पहुंच गई। हालांकि बुधवार को भी 13 पेशेंट स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कर दिए गए। गत मंगलवार को मिले पॉजिटिव केसों में एडीसी के ड्राइवर और गनमैन भी शामिल। बुधवार को एडीसी का भी सैंपल लिया गया। ऐसे में पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों पर भी कोरोना वायरस का खतरा मंडराने लगा है। वहीं बुधवार को कोरोना पॉजिटिव दो लोगों की मौत होने की सूचना है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें