बिल्डिंग प्लानिंग को लेकर बैठक:सीटीपी की अध्यक्षता में नगर निगम गुरूग्राम में आर्किटेक्ट के साथ हुई चर्चा, सभी को दिए गए दिशा निर्देश

गुड़गांव22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आर्किटेक्ट के साथ हुई बैठक - Dainik Bhaskar
आर्किटेक्ट के साथ हुई बैठक
  • निगमायुक्त मुकेश कुमार के निर्देशों की पालना में सीटीपी मधुस्मिता मोईत्रा ने आर्किटेक्ट को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

गुड़गांव नगर निगम के आयुक्त मुकेश कुमार आहुजा के निर्देशों के बाद सोमवार को नगर निगम गुरूग्राम की चीफ टाऊन प्लानर मधुस्मिता मोईत्रा ने आर्किटेक्ट के साथ बैठक की। बैठक में डीटीपी मनीष यादव तथा एटीपी सिद्धार्थ खंडेलवाल भी उपस्थित थे।

बैठक में सभी आर्किटेक्ट से बातचीत करते हुए चीफ टाऊन प्लानर ने कहा कि जैसा कि हरियाणा सरकार ने निगम क्षेत्र में बिल्डिंग प्लान स्वीकृति के लिए ऑनलाईन बिल्डिंग प्लान एप्रूवल सिस्टम पर ऑनलाईन व्यवस्था की हुई है। जिसमें आवेदन का कार्य भी संबद्ध आर्किटेक्ट को ही दिया गया है। शहरी स्थानीय निकाय विभाग द्वारा सभी आर्किटेक्ट को बिल्डिंग प्लान स्वीकृति के लिए आवेदन के समय आवश्यक दिशा-निर्देशों की पालना सुनिश्चित करने बारे भी हिदायतें जारी की गई हैं।

उन्होंने बताया कि नगर निगम गुरूग्राम की कोशिश है कि निगम क्षेत्र में अधिक से अधिक बिल्डिंग प्लान स्वीकृत हों, ताकि लोगों को किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो। इसके लिए आर्किटैक्टों को चाहिए कि वे आवेदन के समय सभी जरूरी दस्तावेजों को सही प्रकार से अपलोड करें, ताकि रिजैक्शन दर कम हो और बिल्डिंग प्लान स्वीकृत हो सकें। उन्होंने सभी जरूरी दिशा-निर्देशों की पालना सुनिश्चित करने की बात बैठक में कही।सीटीपी ने बताया कि प्लानिंग शाखा में विशेष रूप से आर्किटैक्ट सुविधा काऊंटर की स्थापना की गई हैं, जहां पर प्लानिंग असिस्टैंट स्तर के अधिकारी की ड्यूटी लगाई गई है। आर्किटैक्ट बिल्डिंग प्लान आवेदन करने से पूर्व चाहें तो इस काऊंटर पर डॉक्यूमैंट्स की जांच करवा सकते हैं। नगर निगम गुरूग्राम द्वारा सभी आर्किटैक्टों को अधिकृत एवं अनाधिकृत कॉलोनियों की सूची तथा उनमें लगने वाले विकास शुल्क की जानकारी भी सभी आर्किटैक्टों को उपलब्ध करवाई गई है, ताकि आवेदन सही प्रकार से हो और रिजैक्ट ना हो।

खबरें और भी हैं...