टीकाकरण:हरियाणा में आज मनाया जाएगा वैक्सीनेशन ड्राइव डे, प्रदेश में 35 हजार कर्मियों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य

गुड़गांव2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना टीका लगवाते निगम अधिकारी। - Dainik Bhaskar
कोरोना टीका लगवाते निगम अधिकारी।
  • गुड़गांव में आठ हजार कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन लगाने का रखा गया है लक्ष्य

हरियाणा में तेजी से वैक्सीनेशन करने के लिए सोमवार को प्रदेश में वैक्सीनेशन ड्राइव डे मनाया जा रहा है। इसके तहत प्रदेश में 35 हजार फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया है। जबकि गुड़गांव में यह लक्ष्य आठ हजार तय किया गया है। इसके लिए कुल 60 बूथ बनाए गए हैं, जहां पर सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक वैक्सीनेशन किया जाएगा।

अभी तक गुड़गांव में 25 हजार से अधिक कर्मचारियों को पहले व दूसरे चरण में वैक्सीन लगाई जा चुकी है। जिनमें से स्वास्थ्य विभाग के हेल्थ वर्कर्स को अब तक 23229 वैक्सीन लगाई गई है। प्रदेश में वैक्सीनेशन की रफ्तार को बढ़ाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है। सोमवार को पहली बार प्रदेश का स्वास्थ्य विभाग वैक्सीनेशन ड्राइव डे के तहत मेगा ड्राइव चलाने के लिए तैयारी कर चुका है।

जिसके तहत हरियाणा के सभी जिलों में जहां 35 हजार कर्मचारियों को वैक्सीन जबकि अकेले गुड़गांव में आठ हजार कर्मचारियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। अकेले गुड़गांव में कुल लक्ष्य का 40 फीसदी टारगेट दिया गया है।

वहीं अब तक गुड़गांव में 25021 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। जो प्रदेश में सबसे अधिक है। सोमवार को गुड़गांव में 50 बूथों पर फ्रंटलाइन वर्कर्स जिनमें नगर निगम, राजस्व विभाग व पुलिस कर्मियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। जबकि 10 बूथ स्वास्थ्य कर्मियों के लिए बनाए गए हैं।

फरवरी के 7 दिन में 21 हजार से अधिक लोगों की सैंपलिंग व टेस्टिंग की
गुड़गांव में जनवरी महीने में जहां सैंपलिंग व टेस्टिंग की रफ्तार कम हो गई थी, वहीं फरवरी में अब इसे बढ़ाया जा रहा है। फरवरी के पहले सात दिन में 21694 लोगों की सैंपलिंग व टेस्टिंग की गई है, जिनमें से मात्र 140 पॉजिटिव केस मिले हैं। जबकि सात दिन में 196 पेशेंट ठीक होकर घर लौट चुके हैं। जिससे रोजाना पॉजिटिव मिलने वाले केस का औसत घटकर 20 हो गया है।

सोमवार को मिले 15 पॉजिटिव केस| गुड़गांव में सोमवार को कुल 15 पॉजिटिव केस मिले हैं, जो मई के बाद 24 घंटे में मिलने वाले सबसे कम केस हैं। ऐसे में लोगों में कोरोना के प्रति जागरुकता बढ़ी है, जिससे अब कोरोना दम तोड़ रहा है और तेजी से पॉजिटिविटी भी कम हो रही है। पिछले सात दिन में केवल एक पेशेंट की मौत हुई है।

खबरें और भी हैं...