पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान आंदोलन:सुनहेड़ा बॉर्डर पर पुलिस ने रोका, सड़क और डटे किसान, कहा-मर जाएंगे; लेकिन कानून रद्द कराए बिना वापस नहीं जाएंगे

नूंह4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सुप्रीम कोर्ट द्वारा कृषि कानूनों पर रोक लगाए जाने के आदेश के बाद भी किसान संगठन घर लौटने के लिए तैयार नहीं हैं। मंगलवार को सुनहेड़ा बॉर्डर पर किसानों को दिल्ली कूच करने से हरियाणा पुलिस के जवानों तथा सीआरपीएफ के जवानों ने रोक दिया तो राजस्थान-हरियाणा सीमा पर किसान सड़क के बीचो बीच बैठ गए और दिन भर विरोध प्रदर्शन किया।

दरअसल, सुनहेड़ा बॉर्डर पर मंगलवार को हजारों किसानों को किसान आंदोलन के समर्थन में दिल्ली कूच करना था, लेकिन हरियाणा पुलिस द्वारा सीआरपीएफ के जवानों के सहयोग से किसानों को हरियाणा की सीमा में प्रवेश नहीं करने दिया गया। हरियाणा पुलिस तथा सीआरपीएफ के जवान लाठी-डंडे, हथियारों के अलावा आंसू गैस के गोले , वज्र गाड़ियों के साथ पूरी तरह से सीमा पर डेरा डाल लिया है।

किसानों ने पहले ही अल्टीमेटम दिया था कि 12 जनवरी को हजारों की संख्या में राजस्थान हरियाणा की सीमा का बॉर्डर से किसान दिल्ली के लिए कूच करेंगे और अगर पुलिस प्रशासन ने सख्ती दिखाई और उन्हें नहीं जाने दिया तो वे अपना आंदोलन वहीं पर शुरू कर देंगे। एसडीएम कुलबीर ढाका तथा डीएसपी पुन्हाना विवेक चौधरी भी बॉर्डर पर डटे तैनात जवानों का हौसला बढ़ा रहे हैं।

मर जाएंगे, वापस नहीं जाएंगे
तीन कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर देश भर के 500 किसान संगठनों के द्वारा बनाए गए किसान संयुक्त मोर्चा में कोर कमेटी के सदस्य एवं पूर्व सांसद हन्नान मौलाना ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा की केंद्र की सरकार किसानों से जीत नहीं पाई तो मामले को सुप्रीम कोर्ट में ले गई।

कोर्ट की आड़ लेकर मोदी सरकार किसानों को हराना चाह रही है। कोर्ट से उम्मीद थी कि ईमानदारी से गरीबों के हक में फैसला करेगा , लेकिन दुख की बात यह है कि कानूनों को रद्द नहीं किया बल्कि स्थगित किया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser