पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बारिश बनी आफत:पटौदी के नीचले इलाकों में बारिश के कारण बाढ़ के हालात, अंग्रेजों के समय बना बांध टूटा

पटौदी8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जाटौली के खेतों में भरा बारिस का पानी। - Dainik Bhaskar
जाटौली के खेतों में भरा बारिस का पानी।

क्षेत्र के नीचले इलाकों में सोमवार को हुई मूसलाधार बारिश के कारण बाढ़ के हालात बन गए हैं। साबी नदी के रास्ते में पड़ने वाले हजारों किसानों की खेती बर्बाद हो गई है। खेतों में 4 से 5 तक पानी जमा हो गया है। दूसरी तरफ पानी के तेज बहाव के कारण हेेलीमंडी में बांध टूट गया, जिसके कारण भारी मात्रा में पानी लोगों के घराें में भर गया।

पटौदी के नया गांव रोड, हेलीमंडी जाटौली, राजपुरा लुहारी सहित आधा दर्जन गांवों में पानी भरने के कारण लोगों को जीना मुहाल हो गया। बरसात के कारण हेलीमंडी की सुरक्षा के लिए अंग्रेजों के समय बना बांध सोमवार की रात टूट गया। बांध टूटने के कारण इसकी तलहटी में रह रहे लोगों के घरों में पानी भर गया। पूरी रात नगरपालिका के कर्मचारी पानी को बंद करने में लगे रहे लेकिन पानी बंद नहीं हो पाया।

मंगलवार की सुबह पोपलैंड बुलाई गई, जिसके बांध को दोबारा दुरूस्त किया गया। हेलीमंडी में बांध टूटने के सूचना के बाद एसडीएम प्रदीप कुमार नगरपालिका हेलीमंडी अधिकारियों के साथ पहुंचे। उन्होंने बताया कि अभी यह तय नहीं है कि बांध किस विभाग के अधिकार क्षेत्र में आता है। फिलहाल लोगों की सुरक्षा के लिए बांध को दोबारा दुरूस्त कराया जा रहा है। मौसम विभाग ने गुरूग्राम ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। ऐसे में अगर फिर से बारिश आती है तो खेतों में मकान बनाकर रह रहे लोगों को सावधान रहने की आवश्यकता है। मकानों के गिरने का खतरा भी हो सकता है।

खबरें और भी हैं...