पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उत्तरी दिल्ली नगर निगम की नई पहल:संक्रमित मरीजों का इलाज कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 1000 पीपीई किट, मास्क, फेस शील्ड और ग्लब्स दिए

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
निगम ने दिल्ली सरकार से बिना सहयोग लिए 20 दिनों के अंदर मरीजों के उपचार के लिए अस्पताल बनाए - Dainik Bhaskar
निगम ने दिल्ली सरकार से बिना सहयोग लिए 20 दिनों के अंदर मरीजों के उपचार के लिए अस्पताल बनाए
  • निगम ने दिल्ली सरकार से बिना सहयोग लिए 20 दिनों के अंदर मरीजों के उपचार के लिए अस्पताल बनाए

कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता विजय गोयल ने शुक्रवार को महापौर निवास जाकर 1000 पीपीई किट, मास्क, फेस शील्ड और ग्लव्ज दिए। इस अवसर पर पूर्वी दिल्ली के महापौर निर्मल जैन और उत्तरी दिल्ली नगर निगम के आयुक्त संजय गोयल उपस्थित थे। इस दौरान विजय गोयल ने कहा कि उत्तरी निगम कोरोना महामारी की इस विपरीत परिस्थितियों में नागरिकों को हर संभव सुविधा प्रदान कर रही है।

उन्होंने कहा कि उत्तरी निगम के कर्मचारी दिन रात नागरिकों की सेवा में लगे हुए हैं। सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं से भी आगे आकर उत्तरी निगम की मदद करने की अपील की। महापौर जय प्रकाश ने कहा कि इन पीपीई किट, मास्क, फेस शील्ड और ग्लव्स को निगम के अस्पतालों में भेजा जाएगा। उत्तरी निगम बहुत ही विपरीत परिस्थितियों में कार्य कर रही है।

निगम ने दिल्ली सरकार से बिना सहयोग लिए 20 दिनों के अंदर कोरोना मरीजों के उपचार के लिए अस्पताल बनाए हैं। उन्होंने विजय गोयल के इस सहयोग के लिए उनका धन्यवाद दिया। महापौर ने बताया कि इनमें से 500 पीपीई किट, मास्क, फेस शील्ड और ग्लव्ज पूर्वी दिल्ली नगर निगम को दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि उत्तरी निगम सफाई, क्षेत्रों में सैनिटाइजेशन, कोरोना टीकाकरण और बायोमेडिकल वेस्ट उठाने जैसे कार्य को सुचारु रूप से कर रही है।

दाह संस्कार के लिए गोपराली का किया जाएगा उपयोग

महापौर जय प्रकाश ने बताया कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने श्मशान घाटों पर दाह संस्कार के लिए ईंधन के रूप में लकड़ी की जगह फसलों के अवशेष (पराली) और गाय के गोबर से निर्मित ईंधन ब्लॉक (गोपरालीद) के उपयोग किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि आगामी रविवार से ग़ैर सरकारी संगठन शिरडी साईं बाबा का परिवार उत्तरी दिल्ली नगर निगम के क्षेत्राधिकार में महादेव चौक, सेक्टर 26 रोहिणी स्थित शमशान घाट में इन गोपराली के ब्लॉकों का निर्माण शुरू करेगा। यह दिल्ली में उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा शुरू की गई अपनी तरह की एक नई पहल है।

उत्तरी दिल्ली नगर निगम के क्षेत्राधिकार में अन्य ग़ैर सरकारी संगठनों द्वारा चलाए जा रहे श्मशान घाटों को भी निकट भविष्य में लकड़ी के प्रयोग को कम करने और पर्यावरण को स्वच्छ रखने में मदद करने के लिए गोपराली बनाने वाली मशीन को स्थापित करने के लिए कहा जाएगा।

खबरें और भी हैं...