• Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • CM Also Appealed To PM To Increase BJP's Charge Kejriwal Is Telling The Ration Given By The Center As His Own

दिल्ली सरकार ने 6 माह बढ़ाई फ्री राशन योजना:सीएम ने पीएम से भी की बढ़ाने की अपील, भाजपा का आराेप- केंद्र द्वारा दिए गए राशन को अपना बता रहे केजरीवाल

नई दिल्ली24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

छठ पूजा के बाद अब भाजपा और दिल्ली सरकार की राशन योजना को लेकर विवाद शुरू। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील कर गरीब कल्याण योजना के तहत मिलने वाले फ्री राशन योजना छह महीने के लिए बढ़ाने का घोषणा करने के बाद प्रदेश भाजपा के नेताओं ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को दिल्ली सरकार से ली गई आरटीआई के रिपोर्ट के आधार पर झूठा करार देते हुए कहा है कि केंद्र द्वारा दी गई राशन को केजरीवाल गरीबों को अपना बता कर बांट रही है।

बता दें कि केजरीवाल ने अपने अपील में कहा कि महंगाई बहुत ज्यादा हो गई है। आम आदमी को दो वक्त की रोटी भी मुश्किल हो रही है जबकि कोरोना की वजह से कई बेरोजगार हो गए हैं। प्रधानमंत्री जी गरीबों को मुफ्त राशन देने की इस योजना को कृपया छह महीने और बढ़ाया जाए। केंद्र सरकार में खाद्य और उपभोक्ता मामलों के सचिव सुधांशु पांडे ने शुक्रवार कहा था कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना यानी पीएमजीकेएवाई के तहत गरीबों को नवंबर के बाद मुफ्त राशन शायद नहीं मिलेगा।

मार्च 2020 में शुरू हुई थी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना
प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की घोषणा पिछले साल मार्च में की गई थी। इसके बाद से ही केंद्र सरकार की ओर से इस स्कीम के तहत गरीब परिवारों को मुफ्त राशन मुहैया कराया जा रहा है। शुरुआत में यह योजना अप्रैल-जून 2020 की अवधि के लिए शुरू की गई थी, लेकिन बाद में इसे 30 नवंबर, 2021 तक बढ़ा दिया गया था। यह अनाज सब्सिडी वाले अनाज के अलावा गरीबों को मुफ्त राशन दिया जाता है। पीएमजीकेएवाई के तहत 80 करोड़ से अधिक लोगों को प्रति माह 5 किलो मुफ्त गेहूं,चावल के साथ-साथ 1 किलो मुफ्त साबुत चना प्रत्येक परिवार को उपलब्ध कराया जा रहा है।

केजरीवाल और सिसोदिया बोल रहे हैं सफेद झूठ: बिधूड़ी
दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया पर सफेद झूठ बोलने का आरोप लगाया है। उन्होंने चुनौती देते हुए कहा है कि गरीबों को राशन और पैट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती के मामले में दोनों ही आप नेता झूठ बोलकर जनता के साथ धोखा कर रहे हैं लेकिन हम यह खिलवाड़ नहीं होने देंगे। नेता प्रतिपक्ष ने मुख्यमंत्री केजरीवाल के इस दावे पर खुली चुनौती दी है कि दिल्ली में गरीबों को राशन दिल्ली सरकार मुहैया करा रही है। बिधूड़ी ने कहा कि दिल्ली के 72 लाख राशन कार्ड धारकों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून के तहत मिलने वाले राशन के अलावा पिछले साल अप्रैल महीने से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मुफ्त राशन उपलब्ध कराया है और यह योजना अभी भी जारी है। दूसरी तरफ, घोषणा के बावजूद दिल्ली सरकार उन 60 लाख लोगों को मुफ्त राशन नहीं दे रही जिनके पास राशन कार्ड नहीं हैं।

सरकार 11 लाख नए राशनकार्ड बनाए: कांग्रेस
प्रदेश कांग्रेस ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर 11 लाख राशनकार्ड आवेदकों का अविलंब राशन कार्ड बनाने की मांग की है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अनिल कुमार ने सीएम को लिखे पत्र में कहा है कि आवेदक के परिवारों के लगभग 54 लाख लोगों जो पिछले 7 सालों से राशन कार्ड बनने का इंतजार कर रहे हैं, जिनमें से अधिकांश के आवेदन की जांच एफएसआई स्तर से हो चुकी है उनके राशन कार्ड अविलंब बनाए जाए। अनिल चौधरी ने कहा कि कांग्रेस द्वारा बनाए खाद्य सुरक्षा कानून के तहत दी गई 20 लाख परिवारों के 72 लाख राशन कार्डधारक के अतिरिक्त एक भी नए राशनकार्ड धारक परिवार को सरकारी राशन योजना से पिछले 7 सालों में नहीं जोड़ा है।

खबरें और भी हैं...