पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विरोध:चांदनी चौक में मंदिर तोड़े जाने के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अनिल कुमार ने प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित किया। - Dainik Bhaskar
अनिल कुमार ने प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित किया।
  • कांग्रेस कोर्ट से सड़क तक आंदोलन चलाऐगी

चांदनी चौक में हनुमान मंदिर तोड़े जाने के खिलाफ आम आदमी पार्टी और भाजपा के विरुद्ध कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बुधवार जिला कांग्रेस कमेटी ने जिला अध्यक्ष मोहम्मद उस्मान के नेतृत्व में विरोध प्रदर्शन किया जिसमें महिला प्रदेश अध्यक्ष अमृता धवन, जय किशन, सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद थे।

इसके बाद कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार ने प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में करते हुए कहा कि चांदनी चौक में ऐतिहासिक हनुमान मंदिर को पुनर्विस्थापित करने करने और अक्षरधाम मंदिर मेट्रो स्टेशन पर खोली गई शराब की दुकान को सप्ताह बंद करने की मांग करते हुए चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा नही किया गया तो कांग्रेस पार्टी कोर्ट से सड़क तक आंदोलन चलाऐगी।

अगर दिल्ली सरकार की मंशा साफ होती तो मंदिर नहीं टूटता : भाजपा

नई दिल्ली. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि चांदनी चौक के प्राचीन हनुमान मंदिर को तोड़ा जाना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। प्राचीन हनुमान मंदिर को तोड़ने की जिम्मेदार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार के अंतर्गत आने वाले पीडब्ल्यूडी अक्टूबर में हाई कोर्ट गया और वहां कहा कि दिल्ली पुलिस और नगर निगम उन्हें सहयोग नहीं कर रहा है।

इसलिए हाई कोर्ट मंदिर को हटाने के लिए निर्देशित करें। कोर्ट में केजरीवाल सरकार के स्टैंडिंग काउंसलर नौशाद अली अहमद खान ने पक्ष रखते हुए कहा कि चांदनी चौक में हनुमान मंदिर प्राचीन हनुमान मंदिर और पागल बाबा के मंदिर की आवश्यकता नहीं है।

यह चांदनी चौक के सुंदरी करण में बाधा उत्पन्न कर रहा है इसलिए हटा देना चाहिए। गुप्ता ने कहा कि योजना में मंदिर को भी समायोजित किया जा सकता है तो मंदिर को टूटने से बचाया जा सकता था ।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें