पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुविधा:निर्माण श्रमिकों के क्लेम 20 दिनों में होगा निपटारा

नई दिल्ली18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
निर्माण श्रमिकों - Dainik Bhaskar
निर्माण श्रमिकों
  • सरकार ने 488 निर्माण श्रमिकों को जारी किया 3.18 करोड़ की सहायता
  • निर्माण श्रमिकों के क्लेम का 20 दिनों में बंटवारा

दिल्ली सरकार ने दिल्ली निर्माण श्रमिक कल्याण बोर्ड में पंजीकृत विभिन्न श्रेणियों के 488 निर्माण श्रमिकों को 3.18 करोड़ रुपए की सहायता राशि प्रदान की है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज 488 निर्माण श्रमिकों को 3.18 करोड़ रुपए की सहायता राशि प्रदान की। इस कार्यक्रम के तहत श्रमिकों को मातृत्व लाभ के 181 क्लेम, शिक्षा लाभ के 131 क्लेम, दुघर्टना, प्राकृतिक मृत्यु के 53 क्लेम और पेंशन संबंधित 51 क्लेम के दावेदारों में सहायता राशि का वितरण किया गया।

इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि श्रमिकों के मन में यह आत्मविश्वास होना चाहिए कि मेरी सरकार, मेरी मदद के लिए हमेशा तैयार है। उन्होंने कहा कि जिन्हें कुदरत ने ज्यादा नहीं दिया, उनके सपने पूरे करने के लिए दिल्ली सरकार हमेशा तत्पर और तैयार है।

सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली भारत का पहला ऐसा राज्य है, जहां कोरोना काल में निर्माण श्रमिकों को 10 हजार रुपए की सहायता राशि दी गई। दिल्ली सरकार की इस योजना के तहत अब तक करीब 48 हजार पंजीकृत निर्माण श्रमिकों को लाभ मिला है।

निर्माण श्रमिकों के क्लेम का 20 दिनों में बंटवारा
उन्होंने कहा कि श्रमिकों को अपना हक पाने के लिए महीनों तक इंतजार नहीं करना पड़ेगा, उनके क्लेम का निपटारा अब 20 दिनों के अंदर हो जाएगा। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मजदूरों को अपना पंजीकरण करवाने के लिए अब दफ्तरों के सामने लंबी कतारों में लगने की जरूरत नहीं है।

दिल्ली सरकार द्वारा शुरू किए गए डोर स्टेप सर्विस के तहत 1076 पर कॉल कर अपने घर बैठे ही श्रमिक अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। सिसोदिया ने कहा कि जो निर्माण श्रमिक दिल्ली में चमचमाते स्कूलों को बना रहे हैं, दिल्ली के अस्पतालों को बना रहे है।

श्रमिकों को मिलती है राशि
दिल्ली निर्माण श्रमिक कल्याण बोर्ड में पंजीकृत श्रमिकों को दिल्ली सरकार विभिन्न योजनाओं के तहत सहायता प्रदान करती है। जिसके तहत श्रमिकों को स्वयं और पुत्र-पुत्री के विवाह के लिए 35 हजार से 51 हजार रुपए तक की सहायता राशि, अपंग होने पर 1 लाख की सहायता राशि, बच्चों की शिक्षा के लिए 500 से 10,000 रुपए प्रतिमाह, 3000 रुपए प्रतिमाह वृद्धावस्था पेंशन, दुर्घटना मृत्यु पर 2 लाख की सहायता राशि, प्राकृतिक मृत्यु पर 1 लाख की सहायता राशि, प्रसूति लाभ के तहत 30 हजार की राशि दी जाती है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

    और पढ़ें