पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अस्पताल में स्थिति हुई खराब:हड़ताल पर निगमकर्मी, अस्पताल में भर्ती मरीज दूसरे जगह शिफ्ट कर रहे है डॉक्टर्स

नई दिल्ली17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • निगम कर्मचारियों की हड़ताल के कारण अस्पतालों में नहीं हो पा रहा मरीजों का इलाज
  • रेफर हुए मरीजों की संख्या बढ़ने पर भी नहीं मिला बेड

वेतन, पेंशन सहित अन्य मांगों को लेकर हड़ताल पर गए निगम कर्मचारियों के कारण शुक्रवार को हिंदूराव और राजन बाबू अस्पताल में मरीजों के लिए आफत बढ़ गई। यहां जो मरीज उपचार के लिए आए थे, उन्हें बिना इलाज ही वापस लौटना पड़ा। वहीं अस्पताल में भर्ती गंभीर मरीजों को भी दूसरे अस्पताल में शिफ्ट करना पड़ा।

अस्पताल में भर्ती मरीजों के परिजनों ने बताया कि जिन मरीजों को शिफ्ट करने के लिए कहा गया था ,उनमें से कुछ ऐसे भी थे जिन्हें अन्य अस्पतालों में बेड़ नहीं मिला और परेशान होकर घर जाना पड़ा। राजन बाबू अस्पताल में भर्ती मरीज के पिता रामाशीष ने बताया कि उनका 32 वर्षीय विशाल राजन बाबू टीबी अस्पताल में भर्ती था। उसके फेफड़ों में पानी भर गया, जिस वजह से वह न्यू पीसी वार्ड में भर्ती थे।

कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से उन्हें शुक्रवार सुबह महरौली स्थित राष्ट्रीय टीबी संस्थान में रेफर कर दिया था। अस्पताल में रेफर हुए मरीजों की संख्या बढ़ने पर वहां भी उन्हें बेड नहीं मिला। विशाल अस्पताल पहुंचे तो वहां मौजूद डॉक्टरों ने कहा कि आप कुछ दवा लेकर घर जा सकते हैं। राजन बाबू टीबी अस्पताल में भर्ती अधिकतर मरीजों को या तो दूसरे अस्पताल रेफर कर दिया गया या उन्हें बीच में ही छुट्टी देकर घर जाने पर मजबूर कर दिया गया।

अस्पताल में स्थिति हुई खराब
हड़ताल के कारण हिंदूराव अस्पताल में इमरजेंसी सेवाएं पूरी तरह बंद हो गयी हैं। वहां नए मरीजों को भर्ती किया ही नहीं जा रहा बल्कि पहले से वार्ड में भर्ती मरीजों को दूसरे अस्पताल भेज दिया गया या फिर घर भेज दिया गया।

सूत्रों के मुताबिक अस्पताल के न्यूनेटल विभाग में ही सिर्फ चार मरीज भर्ती हैं और अन्य सभी मरीजों को अस्पताल से निकाल दिया गया है। न्यूनेटल विभाग में हाल ही में जन्मे 2 छोटे बच्चे और उनकी माताओं के ही इलाज हो रहा है। इसके अलावा गर्भवती महिलाएं जो डिलवरी के आ रही हैं उन्हें भी भर्ती नहीं किया जा रहा।

बिना वेतन कैसे चलेगा घर का खर्च | हिंदूराव और राजन बाबू अस्पताल के कर्मचारियों का कहना है कि पिछले तीन माह से हमें वेतन नहीं मिला है। बिना वेतन घर का खर्च कैसे चलेगा। इसी के विरोध में नर्सिंग स्टाफ शुक्रवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। राजन बाबू अस्पताल के यूनियन से जुड़े वीरेंद्र चौधरी ने बताया कि बिना वेतन घर चलाना मुश्किल हो गया है। जहां तक हो सकता है हमने किया, अब और नहीं कर सकते।

साउथ एमसीडी क्षेत्र में मच्छर-जनित मामलों में 40% से अधिक की कमी : चावला

जागरुकता, समय पर उचित व्यवस्था करने के कारण दक्षिणी निगम के अधिकार क्षेत्र में वर्ष 2020 में डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया के मामलों में कमी आई है। यह बात साउथ एमसीडी में सदन के नेता नरेन्द्र चावला ने कही।

उन्होंने बताया कि कोविड-19 महामारी एवं लॉकडाउन के बावजूद फील्ड स्टाफ द्वारा कुल 41 लाख 73 हजार 769 बार निगम अधिकार क्षेत्र में आने वाले घरों, सार्वजनिक स्थलों और सरकारी कार्यालयों का निरीक्षण किया। जिनमें से 24 हजार 528 मच्छरों का प्रजनन पाया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser