पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • De compositor Solution Claims To Be Composted By Melting The Stalk Of The Straw In 20 To 25 Days

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सीएम ने किया डी-कंपोजर छिड़काव:डी-कंपोजर घोल से 20 से 25 दिन में पराली के डंठल के गल कर खाद बनने का दावा

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डि-कंपोजर घोल पूसा रिसर्च इंस्टिट्यूट ने तैयार किया
  • सीएम केजरीवाल ने डी-कंपोजर घोल के छिड़काव का किया शुभारंभ

राजधानी दिल्ली के खेतों में पराली के डंठल को खेत में खाद बनाने के डी-कंपोजर घोल के छिड़काव का काम नरेला के हिरंकी गांव से शुरू हो गया। ये डि-कंपोजर घोल पूसा रिसर्च इंस्टिट्यूट ने तैयार किया है। इसकी शुरुआत करते हुए मंगलवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की करीब 700 से 800 हेक्टेयर जमीन पर बासमती धान उगाया जाता है।

किसानों को नई फसल के लिए पराली को जलाना पड़ता है। इस पराली को जलाने की समस्या से छुटकारा दिलाने के लिए अब यह घोल खेतों में छिड़का जाएगा। घोल के छिड़काव के लिए ट्रैक्टर और छिड़कने वालों समेत सभी इंतजाम दिल्ली सरकार ने निशुल्क किया है। किसान को इसके लिए कोई शुल्क नहीं है।

नॉर्थ इंडिया को प्रदूषण से बचाने में केंद्र पूरी तरह नाकाम: सिसोदिया

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पराली के कारण पूरे उत्तर भारत में बढ़ते प्रदूषण पर चिंता जताई है। मंगलवार को मीडिया सेंटर में आयोजित प्रेसवार्ता वार्ता में सिसोदिया ने कहा कि इस साल कोरोना संकट के कारण पराली प्रदूषण काफी जानलेवा है। नॉर्थ इंडिया को प्रदूषण से बचाने में केंद्र सरकार पूरी तरह नाकाम है। सिसोदिया ने कहा कि पराली की समस्या सिर्फ दिल्ली की समस्या नहीं है। यह दिल्ली की देन भी नहीं है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें