पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दिल्ली सरकार का ऐप हुआ फुल:आईसीयू, वेंटिलेटर के लिए भटक रहे मरीज; वेटिंग 500 तक पहुंची

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली में तेजी से बढ़ रहे कोरोना मरीजों के साथ अस्पतालों में आईसीयू और वेंटिलेटर के लिए वेटिंग 500 तक पहुंच गई है। सर गंगा राम अस्पताल, मैक्स सांकेत, सफदरजंग, लोकनायक, जीटीबी सहित दिल्ली के बड़े अस्पतालों में मरीज आईसीयू और वेंटिलेटर के लिए परेशान हो रहे हैं। अस्पताल पहुंचने पर उन्हें केवल आश्वासन ही दिया जा रहा है। मरीजों की माने तो सुबह से शाम तक अस्पताल दर अस्पताल भटकने के बाद भी आईसीयू की सुविधा नहीं मिल पा रही है।

सभी जगहों से केवल दूसरे अस्पताल में जाने के लिए कहा जा रहा है। अपनी माता को लेकर मंगलवार सुबह से घूम रहे कुलदीप ने बताया कि उनकी माता को तुरंत वेंटिलेटर की जरूरत है। द्वारका के कई अस्पतालों में भटकने के बाद भी देर शाम तक कोई जगह नहीं मिली तो मेरठ लेकर जाना पड़ रहा है।

ऐप में केवल 7 आईसीयू खाली

दिल्ली सरकार के एप के अनुसार दिल्ली में वेंटिलेटर के साथ आईसीयू बेड 1449 ही हैं। इनमें से केवल 7 बजे तक केवल 7 ही खाली थे, जबकि 1442 बेड पूरी तरह से फुल हो गए हैं। वहीं बिना वेंटिलेटर के साथ दिल्ली में आईसीयू बेड 3136 हैं। इनमें से 23 बेड ही खाली हैं, जबकि 3113 बेड पूरी तरह से भर चुके हैं। प्रशासन के अनुसार दिल्ली में तेजी से बढ़ रहे मरीजों के साथ अस्पतालों में बेड कम पड़ते जा रहे हैं। यदि आने वाले दिनों में मरीजों की संख्या में कमी नहीं आई तो हालत और भी खराब हो सकते हैं।

खबरें और भी हैं...