पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से हेड़ कांस्टेबल की मौत:कोरोना संक्रमण की चपेट में आए थे दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल; अब तक संक्रमण से 36 पुलिसकर्मियों ने गंवाई जान

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से दिल्ली पुलिस के एक हेड़ कांस्टेबल की मौत हो गई। मृतक की पहचान हरीश कुमार के रुप में हुई है। हेड कांस्टेबल को श्रद्धांजली देकर कहा है कि दिल्ली पुलिस परिवार मृतक के परिवार के साथ है।

जानकारी के मुताबिक हेड कांस्टेबल हरीश कुमार समयपुर बादली थाने में तैनात थे। 2003 में वह दिल्ली पुलिस में बतौर कांस्टेबल आए थे। 2014-15 में वह हेड कांस्टेबल बने थे। वह दिल्ली पुलिस में पीसीआर, आनंद विहार, फर्श विहार, प्रशांत विहार और नरेला औद्योगिक क्षेत्र में तैनात रहे थे। वह मूलरूप से कोहला गांव मेरठ के रहने वाले थे। वह दिल्ली में अपनी पत्नी और बेटा बेटी के साथ मुकुंद विहार करावल नगर इलाके में रह रहे थे। परिवार में माता-पिता, 3 भाई थे, जो मेरठ में ही रहकर खेतीबाड़ी करते हैं।

पांच दिन पहले हुआ था वायरल

परिवार वालों ने बताया कि 5 दिन पहले हरीश को वायरल हुआ था। वह मेडिकल रेस्ट पर चले गए थे। उस समय वह दिल्ली में ही अपने घर पर उपचार करवा रहे थे। रविवार रात को उनको सांस लेने में काफी दिक्कतें आ रही थी। उनको उनके भाई ने हापुड़ रोड स्थित संतोष अस्पताल में भर्ती करवा दिया था। जहां पर उनके टेस्ट हुए थे। जिनकी हालत वहां पर बिगड़ता देखकर उनको एक अन्य अस्पताल मेरठ स्थित सुधा अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां पर उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। उनको उस समय भी सांस लेने में काफी दिक्कत हो रही थी। बीती रात करीब 2 बजे डॉक्टरों ने हरीश को मृत घोषित कर दिया।

अब तक 36 पुलिसकर्मियों ने गंवाई जान

कोरोना संक्रमण के चलते अब तक दिल्ली पुलिस के 36 जवान अपनी जान गंवा चुके हैं। हाल के दिनों में कोरोना संक्रमण के चलते हरीश सहित दो पुलिसकर्मियों ने अपनी जान गंवाई है। वहीं 300 से ज्यादा पुलिसकर्मी बीते 10 दिनों के भीतर कोरोना से संक्रमित हुए हैं। अब तक कुल 8 हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

और पढ़ें