विरोध:नियमित वेतन जारी न करने के विरोध में सीएम आवास कैंप ऑफिस पर दिया धरना

नई दिल्ली24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली सरकार के वित्त पोषित 12 कॉलेजों में अनियमित और अपर्याप्त अनुदान ग्रांट दिए जाने पर आक्रोश जताते हुए शनिवार को सांसद डॉ. राकेश सिन्हा के नेतृत्व में दिल्ली मुख्यमंत्री आवास के कैंप ऑफिस पर धरना दिया।

धरने को संबोधित करते हुए डा राकेश सिन्हा ने कहा कि वेतन शिक्षक का अधिकार है। वेतन को समय पर जारी न करना दिल्ली सरकार की अमानवीयता और असंवेदनशीलता को दर्शाता है। नेशनल डेमोक्रेटिक टीचर्स फ्रंट अध्यक्ष डॉ एके भागी ने कहा कि वर्तमान महामारी के संकट में अनियमित और अपर्याप्त ग्रांट देना अमानवीय और अवैधानिक है।उन्होंने कहा कि हम इस अनावश्यक राजनीति से प्रेरित होकर वेतन जारी करने में देरी और सरकार के लापरवाह रवैये की कड़ी निंदा करते हैं।

धरने के बाद डा सांसद डा राकेश सिन्हा, डूटा अध्यक्ष और डा. एके भागी आदि के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री आवास कैंप ऑफिस पर ज्ञापन देने गया लेकिन न तो मुख्यमंत्री और ना कोई उच्च स्तरीय अधिकारी ज्ञापन लेने के लिए आया। एक घंटे इन्तजार कराने के बाद भी किसी उच्च स्तरीय अधिकारी ने आवास के भीतर ज्ञापन नहीं लिया। प्रतिनिधि मंडल को दरवाजे पर ही ज्ञापन छोड़ कर लौटना पड़ा।

खबरें और भी हैं...