पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Business
  • Petrol Diesel Price Today: Despite The Fall In The Price Of Crude Oil, The Oil Companies Increased The Prices Of Petrol And Diesel By Rs 4 Per Liter

4 मई से अब तक 18 बार बढ़े दाम:कच्चे तेल के दाम घटने के बावजूद तेल कंपनियों ने एक लीटर पेट्रोल-डीजल के दाम 4 रुपए से ज्यादा बढ़ा दिए

नई दिल्ली4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
क्रूड के दाम बढ़े, तब पेट्रोल-डीजल के नहीं, क्योंकि  चुनाव थे। - Dainik Bhaskar
क्रूड के दाम बढ़े, तब पेट्रोल-डीजल के नहीं, क्योंकि चुनाव थे।

लगातार दो दिनों की राहत के बाद आज यानी 4 जून को पेट्रोल-डीजल के दाम एक बार फिर बढ़ गए हैं। तेल कंपनियों ने राजधानी दिल्ली में प्रति लीटर पेट्रोल 27 पैसे और डीजल 28 पैसे महंगा कर दिया है। इसके बाद अब दिल्ली में पेट्रोल 94.76 रुपये और डीजल 85.66 रुपये के भाव पर मिल रहा है।

इससे पहले मई में दिल्ली में प्रति लीटर पेट्रोल 3.83 रुपए और डीजल 4.42 रुपए महंगा हुआ था। इस लिहाज से दिल्ली में मई से लेकर अब तक प्रति लीटर पेट्रोल 4.36 रुपए और डीजल 4.93 रुपए महंगा हो चुका है। वहीं, शुक्रवार को राजस्थान के श्रीगंगानगर में प्रति लीटर पेट्रोल 5 पैसे बढ़कर 105.33 रुपए और डीजल 9 पैसे महंगा होकर 98.20 रुपए हो गया है। यह भारत में सबसे ज्यादा है।

फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के भाव

शहरपेट्रोलडीजल
दिल्ली94.7685.66
मुंबई100.9892.99
कोलकाता94.7688.51
चेन्नई96.2390.38
श्रीगंगानगर105.3398.20
भोपाल102.8994.19

आंकडे़ प्रति लीटर रुपए में हैं।

विधानसभा चुनावों के बाद लगातार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम
बीते एक महीने से भी कम समय में तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार 17 बार बढ़ोतरी करके इनके दाम क्रमश: 4.90 और 4.65 रुपए प्रति लीटर बढ़ा दिए हैं। अकेले मई में 16 बार दाम बढ़ाए गए। खास बात यह है कि मई में कच्चे तेल (भारतीय बास्केट) के औसत दाम अप्रैल की तुलना में 20 रुपए घट गए थे। यानी कच्चे तेल के दामों में कमी के बावजूद तेल कंपनियां लगातार दाम बढ़ा रही हैं।

अप्रैल में क्रूड के औसत दाम 4,718.64 रुपए प्रति बैरल थे, जो मई में घटकर 4,699.33 रुपए हो गए। इसके बावजूद तेल कंपनियों ने 4 मई से पेट्रोल-डीजल दामों में बढ़ोतरी शुरू कर दी। इसके विपरीत मार्च, अप्रैल में कच्चे तेल के दाम क्रमश: 396 और 343 रुपए प्रति बैरल बढ़े, तब एक बार भी पेट्रोल-डीजल के दाम नहीं बढ़े, बल्कि तीन बार घटा दिए गए।

याद दिलाने की जरूरत नहीं होगी कि फरवरी के आखिर में चुनाव आयोग ने मार्च-अप्रैल में 5 राज्यों में विधानसभा चुनावों की घोषणा कर दी थी, जिसके नतीजे 2 मई को आए थे।