• Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Dr. Harsh Vardhan Said That The Number Of Beds In Lady Hardinge Medical College Will Be Increased Further

लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में कोविड केंद्र की समीक्षा:डॉ. हर्षवर्धन ने कहा लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में बिस्तरों की संख्या में और वृद्धि की जाएगी

नई दिल्ली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में निरीक्षण के दौरान डॉक्टर के साथ बातचीत करते हुए। - Dainik Bhaskar
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में निरीक्षण के दौरान डॉक्टर के साथ बातचीत करते हुए।

केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आज लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज का दौरा किया और अस्पताल में कोविड केन्द्रों की व्यापक समीक्षा की और इन केन्द्रों को और अधिक मजबूत बनाने की बात कही। केंद्रीय मंत्री ने सबसे पहले आई.पी.डी ब्लॉक को देखा जहां 240 बिस्तर की सुविधा स्थापित की जा रही है जोकि दो सप्ताह के भीतर शुरू हो जाएगी। इसके बाद केंद्रीय मंत्री ने टीकाकरण केंद्र को देखा और अच्छी तरह अनुशासित तरीके से लोगों के टीकाकरण के लिए अस्पताल के प्रयासों की समीक्षा की।

केंद्रीय मंत्री के निर्देशों को अनुसार कॉलेज की शैक्षणिक गतिविधियों को नए शैक्षणिक खंड में बदला गया जिसके फलस्वरूप कलावती सरन बाल अस्पताल और श्रीमती सुचेता कृपलानी अस्पताल में बिस्तरों की क्षमता और बढ़ गई। ये दोनों अस्पताल लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज से जुड़े हुए हैं।

कलावती शरण बाल अस्पताल में 30 बिस्तर की क्षमता और सुचेता कृपलानी अस्पताल में 112 बिस्तरों की क्षमता बढ़ाई गई है। केन्द्रीय मंत्री ने नए शैक्षणिक ब्लॉक को कोविड वारियरस को समर्पित किया और महामारी के खिलाफ लड़ाई में उनके अथक प्रयासों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि कोविड वारियरस ने चुनौतीपूर्ण समय में लोगों की समर्पित भावना से मदद की।
हर्षवर्धन ने लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज के निदेशकों, नर्सों और कर्मचारियों की महामारी के खिलाफ जंग में निष्ठा पूर्वक कार्य करने के लिए प्रशंसा की

कोविन वैक्सीन पंजीकरण पोर्टल की सराहना करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि डिजिटल और प्रौद्योगिकी सक्षम पोर्टल से सुचारू रूप से पंजीकरण किया जा रहा है । कल शाम 4 बजे से 7 बजे के बीच केवल तीन घंटों में पोर्टल पर 80 लाख से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया । केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि टीकाकरण सरकार की कंटेनमेंट और प्रबंधन कार्य नीति का महत्वपूर्ण तत्व है। महामारी के खिलाफ जंग जारी है और सरकार तेजी से निपटने के लिए अपने सभी अनुभवों का उपयोग कर रही है।

डॉ. हर्षवर्धन ने यह भी कहा कि पिछले एक महीने में कोविड के मामलों में अचानक उछाल आया है लेकिन उसी गति से स्वस्थ होने वाले रोगियों की संख्या बढ़ रही है और वे सेहत के हिसाब से बेहतर बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारत विश्व में उन देशों में से एक है जहां न्यूनतम मृत्यु दर है, लेकिन प्रत्येक मृत्यु भयावह और कष्ट दायक होती है, इसलिए हमें व्यवहार में सुधार लाने के लिए कार्य करने और घर में रोगियों को स्वस्थ बनाने के लिए सही परामर्श प्रदान करने के लिए अधिक से अधिक लोगों को टेली कंसलटेशन की सुविधा देनी होगी।

कोविड’19 के खिलाफ जंग में सबसे बड़ा हथियार कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन करना है
केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने जोर देकर कहा कि कोविड’19 के खिलाफ जंग में सबसे बड़ा हथियार कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन करना है। उन्होंने कहा कि सही तरीके से मास्क पहनने, नियमित रूप से साबुन से हाथ धोने और आपसी दूरी रखना सबसे बड़ा हथियार है। उन्होंने यह भी कहा कि महामारी की शुरूआत से प्रधानमंत्री लोगों से कोविड अनुकूल व्यवहार की अपील कर रहे हैं क्योंकि कोविड-19 के खिलाफ जंग में यह आवश्यक है । केन्द्रीय मंत्री ने देश में जांच क्षमता की सराहना की जोकि लगातार बढ़ रही है और कल 17 लाख से अधिक जांच की गई ।

कल तक कुल 28 करोड़ 44 लाख 71 हजार 979 जांच देश भर में की गई है जबकि कल ही 17 लाख 68 हजार 190 जांच की गई । केंद्रीय मंत्री ने लक्षण वाले लोगों से अपील की कि वे शीघ्र अपनी जांच कराएं और दहशत में न आएं। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की चुनौतीपूर्ण समय में उनके गतिशील नेतृत्व और मंत्रालय तथा मंत्री को नियमित रूप से सक्रिय योजना जारी रखने का विजन प्रदान करने के लिए प्रशंसा की।

खबरें और भी हैं...