पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्लाजमा के नाम पर धोखाधड़ी का मामला:कोरोना मरीजों को प्लाजमा देने के नाम पर ठगने वाला जालसाज गिरफ्तार

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरोपी सात लाेगाें को बना चुका था अपना शिकार

कोरोना जैसी महामारी के दौरान भी लोग धोखाधड़ी करने से बाज नहीं आ रहे। ऐसे ही एक ठग को पुलिस ने अरेस्ट किया है जो कोरोना मरीजों को ब्लड प्लाजमा दिलाने के नाम पर रकम ऐंठ रहा था। अभी तक पुलिस सात पीड़ित लोगों की पहचान कर चुकी है जिनसे एक लाख से ज्यादा रुपए ठगे गए। आरोपी की पहचान नांगलोई निवासी सन्नी (31) के तौर पर हुई। पुलिस ने आरोपी का मोबाइल, करीब तीस हजार रुपए और बैंक अकाउंट फ्रीज किया है।

पुलिस के मुताबिक एक महिला कोरोना पॉजिटिव होने के बाद से मैक्स हॉस्पिटल साकेत में भर्ती थी। उसे प्लाजमा डोनर की जरूरत थी। पीड़ित महिला के रिश्तेदार गुनीत सिंह जग्गी को फेसबुक पर एक नंबर मिला, जो प्लाजमा डोनर मुहैया कराने का दावा कर रहा था। गुनीत सिंह ने उस नंबर पर संपर्क किया। फोन पर बात करने वाले ने ब्लड प्लाजमा के नाम पर पचास हजार रुपए की मांग की।

आरोपी ने एक बैंक अकाउंट नंबर दिया जिसमें रुपए डालने के लिए कहा गया। गुनीत सिंह ने दिए अकाउंट में दस हजार रुपए डाल दिए। रुपए मिलने के बाद आरोपी ने पीड़ित की अनदेखी करनी शुरु कर दी। फोन भी बंद कर लिया।

इस बाबत मिली शिकायत पर सात मई को वसंतकुंज साउथ थाने में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया। वसंतकुंज सब डिवीजन एसीपी नरेश यादव की टीम ने इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस और कॉल डिटेल रिकॉर्ड के जरिए जांच को आगे बढाया। बैंक अकाउंट डिटेल भी हासिल किए।

खबरें और भी हैं...