पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धोखाधड़ी:बड़ी कंपनियों में जॉब के नाम पर ठगी करने वाला रैकेट पकड़ा, तीन अरेस्ट

नई दिल्ली13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
धोखाधड़ी - Dainik Bhaskar
धोखाधड़ी
  • फोन पर इंटरव्यू लेकर नौकरी के दिखाते सपने, रकम ऐंठने के बाद अंडरग्राउंड

अमेजन जैसी कंपनी में नौकरी देने के नाम पर जालसाजी करने वाले एक रैकेट का पर्दाफाश हुआ है। इस सिलसिले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनकी पहचान जहांगीर पुरी निवासी किशन चंद, हेमंत व वीरेंद्र यादव के तौर पर हुई। वीरेंद्र यादव व हेमंत के तौर पर हुई। पुलिस ने इनके पास से छह मोबाइल जब्त किए हैं।

डीसीपी उषा रंगनानी ने बताया 18 फरवरी को मुखर्जी नगर निवासी नीतीश गुप्ता ने इस मामले को लेकर शिकायत दर्ज करायी थी। पुलिस को बताया गया उसने अमेजन कंपनी में फील्ड ब्वॉय की नौकरी के लिए एप्लाई किया था, जहां उसे ठगा गया। उसके पास एक कॉल आया था, जिसमें बताया गया कि वह इस कंपनी का मैनेजर बोल रहा है। आपका बायोडाटा इस पद के लिए शार्टलिस्ट किया गया है।

उसने वाट्सएप पर दस्तावेज मंगवा लिए और फोन पर ही इंटरव्यू भी ले लिया। इसके बाद उससे एक हजार रुपए डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन और 2500 रुपए यूनिफार्म के नाम पर फोन पे के जरिए ले लि। इसके बाद उससे लैपटॉप सिक्योरिटी के नाम पर पांच हजार की मांग की गई। यह रकम उसने कोटक महिंद्रा बैंक में बताए गए अकाउंट नंबर में भेज दी।

बार बार रुपयों की मांग करने पर उसे खुद के साथ धोखाधड़ी का अहसास हुआ जिसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच साइबर सेल को सौंपी। बैंक अकाउंट की डिटेल निकाली गई। आरोपी के फोन नंबर की सीडीआर भी निकलवायी। जिनके बारे में मिली जानकारी के बाद उन्हें पकड़ा जा सका।

बाकायदा, ये लोग ठगी के लिए कॉल सेंटर चला रहे थे। आरोपी किशन चंद बारहवीं तक पढ़ा है। वीरेंद्र को रुपयों की जरूरत थी, इसलिए वह दोस्तों के संग मिलकर ठगी करने लगा। वहीं हेमंत पर कर्जा हो रखा था, जिसे उतारने के लिए वह इस धंधे में आया।

ऑनलाइन आर्डर देकर मंगवाता था सामान, बदले में पेमेंट की फर्जी का स्क्रीनशॉट भेजता

ऑनलाइन आर्डर के बदले फर्जी पेमेंट रसीद भेज ठगी करने वाले जालसाज को पकड़ा गया है। आरोपी की पहचान सनमहया कुमार (33) के तौर पर हुई, जिसे ओडिशा में दबिश दे गिरफ्तार किया। पुलिस ने इसके पास से दो बैटरी चार्जर, तीन मोबाल, तीन लैपटॉप, आईपेड और सौ से ज्यादा मोबाइल के सिमकार्ड और आधार कार्ड जब्त किए हैं। आरोपी ने स्नातक तक पढ़ाई की है।

वर्तमान में वह बेरोजगार था, कोई काम नहीं होने की वजह से उसने इस तरह से लोगों को ठगना शुरु कर दिया। आरोपी के खिलाफ चीटिंग के दो केस हैं। साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक डीसीपी आरपी मीणा ने बताया 18 फरवरी को एक कंपनी के सेल्स मैनेजर अरुण कुमार शर्मा ने मामले की शिकायत दर्ज करायी थी।

जिसमें बताया गया उनकी कंपनी ऑनलाइन बैटरी चार्जर सप्लाई करती है। ओडिशा के रहने वाले आशीष दास ने बैटरी चार्जर का आर्डर दिया था। जिसकी बैंक के जरिए पेमेंट 43560 रुपए की रसीद का स्क्रीन शॉट भेजा गया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए कोई उपलब्धि ला रहा है, उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। कुछ ज्ञानवर्धक तथा रोचक साहित्य के पठन-पाठन में भी समय व्यतीत होगा। ने...

    और पढ़ें