ठगी का मामला:पॉलिसी के नाम पर लोगों को ठगने वाला गैंग पकड़ा, तीन लोग गिरफ्तार

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गैंग के सरगना की इस साल सड़क दुर्घटना में हो चुकी मौत

क्राइम ब्रांच की साइबर सेल ने लोगों को ठगने वाले एक गैंग में शामिल तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने चार मोबाइल फोन, चार सिम कार्ड, तेरह अकाउंट में मौजूद दो लाख से ज्यादा की रकम फ्रीज की है। आरोपियों की पहचान मोहन गार्डन उतम नगर निवासी अभय किशोर, द्वारका पुरी उतम नगर निवासी सुनील बेदी और नजफगढ़ रोड निवासी अनिल कुमार झा के तौर पर हुई। वहीं, इस गैंग के सरगना की सड़क हादसे में मौत हो चुकी है।

तफ्तीश के दौरान पुलिस को पता लगा इस साल 24 मार्च को गैंग के सरगना कुरेश की सड़क हादसे में मौत हो चुकी है। आरोपी लोगों को लाइफ इंशुरेंस, न्यू पाॅलिसी और बचत निवेश स्कीम के बहाने लोगों को कॉल कर अपने झांसे में लेकर उनसे ठगी करते थे।

इस काम के लिए कुरेश सिम कार्ड और अकाउंट सुनील बेदी और अनिल से लेता था। अनिल कुमार सिम कार्ड मुहैया करवाता था, प्रत्येक के बदले उसे दो हजार रुपए मिलते थे। जबकि दूसरा आरोपी को रकम की ट्रांजेक्शन के बदले कमीशन मिलती थी। आरोपी अभय किशोर बिहार से ग्रेजुएट है। शुरु में उसने मोटर इंश्योरेंस पॉलिसी का काम करना शुरु किया था। बाद में वह लोगों को ठगने लगा था।

गैंग ने अर्जुन को लगभग साढ़े ग्यारह लाख की चपत लगाई थी
क्राइम ब्रांच के मुताबिक हाल ही में इस गैंग ने लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी के नाम पर अर्जुन कुमार को लगभग साढ़े ग्यारह लाख रुपए की चपत लगाई थी। जालसाजों के झांसे में आए पीड़ित ने उनके द्वारा बताए गए बैंक अकाउंट में यह रकम ट्रांसफर कर दी थी। मामले में मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरु की। आरोपियों के सात बैंक अकाउंट को पुलिस ने तफ्तीश के दायरे में ले लिया। जानकारी जुटाने के बाद पुलिस ने सबसे पहले आरोपी अभय किशोर को पकड़ा। बाद में उसके दो अन्य सहयोगियों को भी पकड़ लिया।

खबरें और भी हैं...