प्रदर्शन / स्वास्थ्य कर्मियों ने हाथ पर काली पट्टी बांधकर कर जताया विरोध

X

  • कोविड ड्यूटी के बांद क्वारंटीन की सुविधा न देने के खिलाफ बढ़ रहा विरोध

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

दिल्ली. कोविड-वार्ड में ड्यूूटी के बाद क्वारंटीन की सुविधा न मिलने के खिलाफ स्वास्थ्यकर्मियों ने शुक्रवार को काली पट्टी बांधकर मरीजों का इलाज किया। स्वास्थ्यकर्मियों का कहना है कि कोरोना के मरीजों का उपचार करने के बाद वह घर नहीं जा सकते। यदि 14 दिन के बाद क्वारंटीन की सुविधा नहीं मिलती ‌तो उनके परिजन भी इस संक्रमण का शिकार हो सकते हैं, इसी का विरोध करते हुए शुक्रवार को डॉ. राम मनोहर लोहिया, सफदरजंग, एम्स, लोकनायक सहित दिल्ली के अधिकतर अस्पतालों में स्वास्थ्यकर्मियों ने हाथ पर काली पट्टी बांधकर काम किया।

बता दें कि केंद्र सरकार ने कोविड वार्ड में ड्यूटी करने वाले डॉक्टर और सभी मेडिकल स्टाफ को ड्यूटी के बाद क्वारंटीन में रहने की सुविधा खत्म करने का आदेश जारी किया है। जबकि पहले कोविड वार्ड में ड्यूटी करने के बाद सभी डॉक्टर, नर्स व मेडिकल स्टाफ को ड्यूटी के दौरान और ड्यूटी के बाद क्वारंटीन किया जाता था, ताकि उनकी वजह से उनके घर व साथ में काम करने वाले अन्य स्टाफ में कोरोना का संक्रमण न हो। नए दिशा निर्देशों के तहत अब केवल ड्यूटी के दौरान ही क्वारंटीन की सुविधा दी जाएगी। एम्स, आरएमएल, लोकनायक सहित अन्य अस्पतालों के डॉक्टरों का कहना है कि इस फैसले से मेडिकल स्टाफ की जिंदगी खतरे में पड़ सकती है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना