पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब कोरोना के नाम पर फ्रॉड:मदद के नाम पर IPS से ठगी, साइबर सेल ने विदेशी जालसाज को किया अरेस्ट

नई दिल्ली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दोस्त बनकर ठगी करने वाला आरोपी - Dainik Bhaskar
दोस्त बनकर ठगी करने वाला आरोपी
  • आरोपी ने पीड़ित का दोस्त बनकर हड़पे थे 97 हजार रुपए, डिफेंस काॅलोनी थाना क्षेत्र का मामला

IPS रैंक के पुलिस अफसर से चीटिंग केस में एक नाइजीरियन मूल के नागरिक को अरेस्ट किया गया है। आरोपी ने पीड़ित के दोस्त बनकर 97 हजार रुपए ऐंठे थे। आरोपी की पहचान टचुक्वू क्रिस्टियन नवासू के तौर पर हुई है। पुलिस ने इसके पास से पांच मोबाइल, छह ATM कार्ड, पांच चैक बुक और एक लैपटॉप बरामद किया है।

डीसीपी साउथ डिस्ट्रिक अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि 19 अप्रैल को एक सीनियर पुलिस अफसर ने 97 हजार रुपए की ठगी की शिकायत की थी। उनका करीबी दोस्त यूएसए में रहता है। उनके व्हाट्सएप नंबर से कॉल आई थी, जिससे हुई चैटिंग में इस दोस्त ने काेरोना संकट का बहाना बनाकर उनसे रुपयों की मांग की थी। दोस्त के मुसीबत में होने का पता चलने पर पीड़ित ने बिना देरी किए दिए गए अकाउंट में रकम ट्रांसफर कर दी। बाद में जब पीड़ित ने अपने दोस्त से बात की तो पता चला उसने कोई मदद नहीं मांगी थी। लिहाजा, ठगी का अहसास होने पर पुलिस को मामले की सूचना दी गई। इस बाबत डिफेंस कॉलोनी थाने में मुकदमा दर्ज किया गया।

साइबर सेल के इंस्पेक्टर अजीत कुमार की टीम ने जांच के दौरान उस बैंक अकाउंट को तफ्तीश के दायरे में लिया, जिसमें रकम डाली गई। पुलिस ने फौरन उस बैंक अकाउंट को फ्रीज करवा दिया। व्हाट्सएप नंबर और बैंक अकाउंट में दिए गए नंबर को पुलिस ने टेक्नीकल सर्विलांस पर लिया। पता चला आरोपी की मूवमेंट छतरपुर और उतम नगर इलाके में हो रही है। आखिर में तीस अप्रैल को आरोपी को मैदानगढ़ी इलाके से दबोच लिया गया। वह पांच साल से इंडिया में रह रहा था।

खबरें और भी हैं...