• Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • MP Bidhuri Said After Only Ten Days, Only 140 Beds Were Given To The Public, Information About 500 Beds

सीएम केजरीवाल पर जनता गुमराह करने का आरोप:सांसद बिधूड़ी ने कहा -दस दिन बाद भी बना मात्र 140 बेड जनता को दी 500 बेड की जानकारी

नई दिल्ली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सरदार कोविड सेंटर में 200 ऑक्सीजन काँस्ट्रेटर मौजूद 5000कहीं और भेजा : बिधूड़ी - Dainik Bhaskar
सरदार कोविड सेंटर में 200 ऑक्सीजन काँस्ट्रेटर मौजूद 5000कहीं और भेजा : बिधूड़ी
  • सरदार पटेल कोविडसेंटर पर जनता को गुमराह कर रहे हैं केजरीवाल
  • सरदार कोविड सेंटर में 200 ऑक्सीजन काँस्ट्रेटर मौजूद 5000कहीं और भेजा : बिधूड़ी

दक्षिणी दिल्ली के सांसद रमेश बिधूड़ी ने छतरपुर में बनाये गये सरदार पटेल कोविड सेंटर पर जनता को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए दिल्ली में कोरोना से निपटने में पुरी तरह से फेल बताते हुए पत्रकार वार्ता कर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से इस्तीफा मांगा है। सांसद ने कहा कि केजरीवाल सरकार यहां 500 बेड के बजाय मात्र 140 बेड की ही व्यवस्था कर सकी है।

यह भी केन्द्रीय गृह मंत्री व केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री के हस्तक्षेप के बाद यह अस्पताल शुरु हुआ है। बिधूड़ी ने कहा है कि केजरीवाल यदि कोरोना से मरते रोगियों की जान नहीं बचा सकते तो वह सत्ता छोड़ कर जनता पर उपकार करें, हम 72 घंटे में 2000 बैड प्रारंभ कर दिल्ली वालों को राहत देंगे।

बिधूड़ी ने आज पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल कोरोना से मर रहे रोगियों को उपचार उपलब्ध कराने के बजाय हर 5 मिनट बाद टीवी चैनलों पर विज्ञापन देकर जनता को भ्रमित करने में अपनी ताकत लगा रहे हैं। मीडिया स्टंट करके जनता को गुमराह करने में लगे हैं।

उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष भी जनता जब कोरोना के कारण त्राहि त्राहि करने लगी तो केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने छतरपुर में सरदार पटेल कोविड सेंटर शुरु कर व 10 हजार बेड की व्यवस्था कर दिल्ली के लोगों की जान बचाई थी। सांसद ने कहा कि छतरपुर के सरदार पटेल सेंटर पर केजरीवाल ने 18 अप्रैल को मीडिया बुलाकर 500 बेड का कोविद अस्पताल शुरु करने का एलान किया था।

पर दस दिन तक वह वहां एक भी बेड नहीं लगवा सके। क्षेत्र की डीएम से जब पूछा गया तो वह भी बार बार गुमराह करती रही। इस बीच हमने केन्द्रीय गृह मंत्री से मदद मांगी तो उन्होंने केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन को वहां भेजा। डीएम ने केन्द्रीय मंत्री को भी जिलाधिकारी ने 12 से 24 घंटे में अस्पताल शुरु करने का आश्वासन दिया।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने जब इस मामले में रुचि लेनी शुरु की तो अचानक अगले दिन मुख्यमंत्री केजरीवाल ने वहां पहुंच कर 140 बेड का कोविड सेंटर शुरु किया जबकि दिल्ली की जनता को 500 बेड शुरु करने की जानकारी दी गई।

उन्होंने कहा कि यदि सेंटर में बेड हैं तो बाहर तड़प रहे रोगियों को अस्पताल में भर्ती क्यों नहीं किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि वहां मौजूद 5000 आक्सीजन कन्सटेटर को हीं और भिजवा दिया गया है और वहां मात्र 200 आक्सीजन कन्सनटेटर मौजूद हैं।

खबरें और भी हैं...