पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • New Cases Fell From 4 Lakh To 1 Lakh; Scientists Are Saying If We Do Not Leave Discipline, We Can Stop The Third Wave

लाख टके की बात:नए केस 4 लाख से गिरते हुए 1 लाख पर आए; वैज्ञानिक कह रहे- अनुशासन नहीं छोड़ा तो हम तीसरी लहर को रोक सकते हैं

नई दिल्ली6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
WHO के अनुसार, अगर संक्रमण की दर 5% से नीचे हो तो आप मान सकते हैं कि अब महामारी अनियंत्रित नहीं है। - Dainik Bhaskar
WHO के अनुसार, अगर संक्रमण की दर 5% से नीचे हो तो आप मान सकते हैं कि अब महामारी अनियंत्रित नहीं है।
  • देश में कोरोना केस 1 लाख के स्तर पर आने में 61 दिन लगे, अमेरिका में 100 दिन लगे थे
  • भारत में 4 लाख का स्तर छूने के बाद भी अमेरिका से कमजोर रही दूसरी लहर, केस भी 22.6 लाख कम

भारत में रविवार को 1,01,265 नए कोरोना मरीज मिले। यह आंकड़ा 7 अप्रैल, यानी 61 दिन बाद 1 लाख हुआ है। संक्रमण की दूसरी लहर में अमेरिका में ऐसा होने में पूरे 100 दिन लग गए थे। इस लिहाज से भारत को दूसरी लहर से उबरने में अमेरिका से 39 दिन कम लगे हैं। मरीज भी अमेरिका से 22.6 लाख कम मिले हैं।

अमेरिका में दूसरी लहर के 100 दिन में 1.82 करोड़ नए केस मिले, जबकि भारत में दूसरी लहर के 61 दिन में 1.56 करोड़ केस मिले हैं। नए मरीजों में गिरावट की बड़ी वजह संक्रमण की दर (टेस्ट पॉजिटिविटी रेट) में 4 गुना तक की कमी आना है। देश में संक्रमण की 7 दिन की औसत दर 6.6% पर आ चुकी है। जो ठीक एक महीने पहले 6 मई को 26% तक पहुंच गई थी। अच्छी बात यह है कि 22 राज्यों में संक्रमण की दर 5% से नीचे गिर चुकी है। WHO के अनुसार, अगर संक्रमण की दर 5% से नीचे हो तो आप मान सकते हैं कि अब महामारी अनियंत्रित नहीं है।

भारत में अब तीसरी लहर का खतरा है। ICMR के निदेशक डॉ. बलराम भार्गव का मानना है कि मास्क, दो गज की दूरी और ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन के दम पर तीसरी लहर को रोका जा सकता है।

देश के 75% केस अब तमिलनाडु समेत सिर्फ पांच राज्यों में मिल रहे

देश के 75% नए केस अब सिर्फ पांच राज्यों तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र और आंध प्रदेश में मिल रहे हैं। इन राज्यों में 5 जून को 79 हजार मरीज मिले थे। इनके अलावा सभी राज्यों में नए केस 10 हजार से नीचे आ चुके हैं। 28 राज्य-केंद्रशासित प्रदेशों में रोज 2 हजार से भी कम मरीज मिलने लगे हैं। हालांकि, मौतों में बड़ी गिरावट अभी बाकी है। अभी रोजाना आंकड़ा 2500 से ऊपर बना हुआ है।

सक्रिय केस अब 14 लाख, दो माह में 62% घटे

देश में 9 मई को सबसे अधिक 37.41 लाख सक्रिय मरीज थे। अब 14 लाख हैं। पहली लहर में 17 सितंबर 2020 को सक्रिय मरीजों की अधिकतम संख्या 10.18 लाख थी। यह स्तर आने में अभी 3-4 दिन लग सकते हैं।

खबरें और भी हैं...