पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डीपीसीसी ने जुर्माना में किया संशोधन:दिल्ली में शोर शराबे पर लगेगा 10 हजार से 1 लाख तक जुर्माना

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली में ध्वनि प्रदूषण करना भारी पड़ सकता है। ध्वनि प्रदूषण करते पकड़े गए तो आपको एक लाख रुपए का जुर्माना भरना पड़ सकता है। दिल्ली में ध्वनि प्रदूषण रोकने के लिए दिल्ली प्रदूषण कंट्रोल कमेटी (डीपीसीसी)सख्त रवैया अपनाने की तैयारी कर रही है। इसके लिए डीपीसीसी ने ध्वनि प्रदूषण के मामले में मौजूदा जुर्माने की राशि में संशोधन करने जा रही है।

इसके बाद ध्वनि प्रदूषण फैलाने वाले किसी भी माध्यम पर एक लाख रुपए तक के जुर्माने के साथ प्रदूषण फैलाने वाली संयत्र को भी जब्त करने का प्रावधान रखा है। डीपीसीसी ने जनरेटर सेट के होने वाली ध्वनि प्रदूषण को लेकर भी कार्रवाई के आदेश दिए हैं। इसके अलावा अब ध्वनि प्रदूषण फैलाने वाले संयंत्र को जब्त भी करने का प्रावधान किया गया है।

संशोधन का यह प्रस्ताव एनजीटी द्वारा स्वीकृत भी कर लिया गया है। नए नियम के अनुसार, किसी भी व्यक्ति द्वारा तय समय के बाद पटाखा जलाने पर लगने वाले जुर्माने की राशि में भी संशोधन किया गया है। रिहायशी और कमर्शियल इलाके में यह राशि 1000 और साइलेंट जोन में जुर्मानें की राशि 3000 रुपए होगी।

डीपीसीसी के नए प्रावधान के अनुसार किसी रैली, शादी समारोह या धार्मिक उत्सव में पटाखे जलाने संबंधी नियमों का उल्लंघन होता है, तो रिहायशी व कमर्शियल इलाके में आयोजक पर 10 हजार और साइलेंट जोन में 20 हजार तक के जुर्माने का प्रावधान किया गया है।

अगर आयोजक द्वारा उसी तय क्षेत्र में नियमों की दोबारा अवहेलना होती है, तब जुर्माने की राशि बढ़ाकर 40 हजार कर दी जाएगी। जबकि दो बार से ज्यादा नियम के उल्लंघन के मामले में एक लाख का जुर्माना देना पड़ेगा, साथ ही उस तय क्षेत्र को भी सील कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...