पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब गुड़गांव से सटे गांव में लव जिहाद का मामला:नर्स 20 दिन से गायब, धर्म परिवर्तन कर शादी का दबाव; लड़की के पिता की शिकायत पर अपहरण का केस दर्ज

फिरोजपुर झिरका8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • युवती ने करीब 20 दिन पहले गांव आकर पिता को दी थी युवक के हरकतों की जानकारी

बिछौर थाना क्षेत्र के गांव नीमका से दूसरे समुदाय के युवक द्वारा मेडिकल स्टाफ नर्स का अपहरण करने का मामला आया है। पीड़िता के पिता की शिकायत पर बिछौर पुलिस ने शुक्रवार को नामजद व्यक्ति के खिलाफ अपहरण सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

महेंद्रगढ़ के गांव नावां निवासी पीड़िता के पिता ने शुक्रवार को पुलिस को शिकायत दी कि उसकी लड़की पुन्हाना उपमंडल के गांव सिंगार के पीएचसी में स्टाफ नर्स के पद पर कार्यरत है। ड्यूटी के दौरान गांव नीमका निवासी युवक इकबाल लड़की के साथ छेड़छाड़ और धर्म परिवर्तन कर शादी करने का दबाब डालता था। जिसकी जानकारी लड़की ने करीब 20 दिन पहले गांव आकर दी थी।

पीड़ित ने बताया कि जब उसकी लड़की गांव से वापस सिंगार पीएचसी में ड्यूटी पर गई तो उसका मोबाइल फोन बंद मिला। जिसके बाद पिता ने पुन्हाना के गांव सिंगार में स्थित पीएचसी में आकर लड़की का पता लगाया, लेकिन उसका कहीं भी पता नहीं चला। पीड़ित का आरोप है कि जब लड़की के बताए लड़के के घर पता किया तो उसके घर वालों से पता चला कि इकबाल किसी लड़की को लेकर घर आया था।

जिसे लेकर वो चला गया, जिसके बारे में उन्हें जानकारी नहीं है। जिसपर पीड़िता के पिता ने शुक्रवार को बिछौर थाने में नीमका निवासी इकबाल पर धर्म परिवर्तन कर शादी करने की नियत से अपहरण करने का मुकदमा दर्ज कराया है। उन्होंने लगभग 20 दिन पहले अपहरण होने की आशंका जताई है।

वहीं बिछौर थाना प्रभारी कृष्ण कुमार ने बताया कि पीड़िता के पिता ओमप्रकाश की शिकायत मिलते ही इकबाल निवासी नीमका के खिलाफ अपहरण सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। आरोपी के ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। लड़की का पता लगाया जा रहा है।

निकिता हत्याकांड : वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश

रेहान भी 14 दिन की न्यायिक हिरासत में तौसीफ की जेल बदलने की मांग खारिज बल्लभगढ़ के बहुचर्चित निकिता तोमर हत्याकांड के दूसरे आरोपी रेहान को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए शुक्रवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रियंका जैन की कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसे भी 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। हिंदू संगठनों के आक्रोश को देखते हुए पेशी वीडियो कांफ्रेंसिंग से हुई। पुलिस को आशंका थी कि कहीं कोर्ट परिसर के अंदर उस पर कोई हमला न कर दे।

वहीं मुख्य आरोपी तौसीफ द्वारा जेल बदलने के लिए लगाए गए आवेदन को कोर्ट ने खारिज कर दिया। उधर हरियाणा राज्य महिला आयोग की वाइस चेयरपर्सन प्रीति भारद्वाज शुक्रवार को निकिता की मां विजयवती व पिता मूलचंद तोमर से मिलीं और पूरी घटना की जानकारी ली। उन्होंने इस केस की फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई कराने व जल्द चार्जशीट फाइल कर आरोपियों को सजा दिलाने का भरोसा दिया।

इससे पहले वे पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह के आवास पर जाकर उनसे मिलीं और और पुलिस कार्रवाई की जानकारी ली। उधर निकिता के परिवार की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सरकार के आदेश पर पुलिस घर के आसपास सीसीटीवी कैमरा लगा रही है जिससे संदिग्धों पर नजर रखी जा सके। शुक्रवार को पुलिस ने कैमरों के लोकेशन की जांच की।

फोर्टिस मामला : हरियाणा महिला आयोग की चेयरपर्सन पीड़ित से मिली

आईसीयू में शिफ्ट हुई युवती, 12 से पूछताछ

गुड़गांव शहर के फोर्टिस अस्पताल के वेंटीलेटर पर युवती के साथ दुष्कर्म के मामले में मुकदमा दर्ज होने के तीन दिन बाद भी पीड़ित के बयान दर्ज नहीं हो पाए। वहीं मामला उजागर होने के तीसरे दिन हरियाणा महिला आयोग की चेयरपर्सन प्रीति भारद्वाज अस्पताल पहुंचकर पीड़ित से मिली। हालांकि युवती अभी बयान दर्ज करवाने की स्थिति में नहीं है। उन्होंने इस घटना पर गंभीर सवाल उठाएं हैं।

उन्होंने कहा कि एक महिला पेशेंट की सेफ्टी के लिए महिला स्टाफ की ड्यूटी लगाई जानी चाहिए थी, ऐसे में इस तरह की घटना आखिर कैसे हुई? प्रीति भारद्वाज ने बताया कि पीड़ित युवती को वेंटीलेटर से आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया है। लेकिन अभी उसकी हालत बयान देने की नहीं है।

ऐसे में शुक्रवार को भी उसके बयान दर्ज नहीं हो पाए। वहीं नागरिक अस्पताल के डाक्टरों ने युवती का मेडिकल किया, जिसमें दुष्कर्म होने संभावना जताई गई है। दूसरे ओपिनियन के लिए प्राइवेट अस्पताल के डाक्टरों से भी मेडिकल जांच करवाने की मांग की गई है।

खबरें और भी हैं...