पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • People Of Delhi Should Contribute To Reduce Pollution By Stopping Vehicles At Red Lights: Kejriwal

'रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ अभियान:दिल्ली के लोग रेड लाइट पर वाहन गाड़ी बंद कर प्रदूषण कम करने में योगदान दें: केजरीवाल

नई दिल्ली9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • राजधानी में प्रदूषण के खिलाफ अब ‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ अभियान
  • रेड लाइट पर चालू हालात में गाड़ी खड़ी रखने को आइलिंग कहते हैं
  • दिल्ली सरकार ने ईपीसीए और सीपीसीबी को लिखा पत्र

दिल्ली में वायु प्रदूषण को रोकने के लिए शुरू ‘युद्ध प्रदूषण के विरुद्ध’ अभियान के बाद गुरुवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ अभियान की शुरुआत की। इसकी शुरुआत कर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों से अपील की कि रेड सिग्नल पर अपने वाहन बंद रख कर प्रदूषण कम करने में अपना योगदान दें, इससे ईंधन की भी बचत होगी।

केजरीवाल ने कहा कि एक गाड़ी रेड सिग्नल पर रोज औसतन 15 से 20 मिनट रुकती है और करीब 200 मिली तेल की खपत होती है। यदि गाड़ी बंद रखी जाए तो साल में करीब 7 हजार रुपए की बचत हो सकती है। रेड लाइट पर चालू हालात में गाड़ी खड़ी रखने को आइलिंग कहते हैं। केजरीवाल ने कहा कि सर्दियों में आइलिंग के दौरान गाड़ी से निकलने वाला धुंआ नीचे बैठ जाता है। जो प्रदूषण को बढ़ाता है। केजरीवाल ने दिल्ली सरकार की तरफ से प्रदूषण रोकने उठाए गए कदमों की जानकारी भी दी।

एनसीआर के सारे थर्मल पॉवर प्लांट सात दिन में बंद हो : गोपाल राय
वायु प्रदूषण में राज्यों के साथ भेदभाव की नीति अपनाने का आरोप लगाकर पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री के प्रति कड़ी नाराजगी जताई है। राय ने कहा कि केंद्र सरकार पड़ोसी राज्यों का प्रवक्ता न बने और प्रदूषण के खिलाफ मिल कर काम करें।

दिल्ली सरकार की मांग है कि सात दिन के अंदर एनसीआर के सारे थर्मल पॉवर प्लांट बंद हों, इस संबंध में सीपीसीबी और ईपीसीए को पत्र भी लिखा गया है। राय ने कहा कि 12 थर्मल पॉवर प्लांट में से 1 जगह नई तकनीक लगी है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय पर्यावरण मंत्री ने बयान दिया है कि पड़ोसी राज्यों में पराली जलने से दिल्ली में केवल 4 प्रतिशत तक प्रदूषण बढ़ता है, जबकि जैसे-जैसे पराली जलने के मामले बढ़ रहे हैं, उसी अनुपात में दिल्ली का प्रदूषण भी बढ़ रहा है।

पीडब्ल्यूडी पर लगा नियमों के उल्लंघन पर 20 लाख का जुर्माना
बुराड़ी स्थित निर्माण साइट पर बड़े पैमाने पर मिली लापरवाही के बाद दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने डीसीपीसी को लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) पर 20 लाख रुपए का जुर्माना लगाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही पीडब्ल्यूडी को साइट पर पानी के दो और टैंकर लगाने का निर्देश दिया है।

इसके अलावा, बाहर निकाली गई मिट्टी को ढंकने का निर्देश दिया है। दरअसल, गुरुवार को पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने दिल्ली में धूल से होने वाले प्रदूषण को नियंत्रित करने को लेकर चलाए जा रहे ‘एंटी डस्ट’ अभियान की कड़ी में बुराड़ी के मुख्य मार्ग के साथ बन रहे नाले के निर्माण साइट्स का स्थलीय निरीक्षण किया।

पर्यावरण मंत्री ने दिल्ली सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का मौके पर बड़े पैमाने पर उल्लंघन होता पाया। इस पर उन्होंने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि साइट्स पर सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुपालन में भारी लापरवाही पाई गई है।

नार्थ एमसीडी ने वायु प्रदुषण के खिलाफ शुरू किया अभियान
उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने वायु प्रदूषण से निपटने के लिए गुरुवार को व्यापक स्तर पर अभियान चलाया। इस मौके पर नार्थ एमसीडी के महापौर जय प्रकाश ने अजमल खां पार्क, करोलबाग से वायु प्रदुषण की रोकथाम के लिए महाअभियान की शुरूआत की।

साथ ही कहा कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने हवा में धूल के कणों को रोकने व प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए सड़कों पर नियमित रूप से पानी का छिड़काव करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदुषण पर लगाम लगाने हेतू उत्तरी दिल्ली नगर निगम संवेदनशील है और अपने अधिकार क्षेत्र में वायु प्रदूषण को रोकने के लिए हर उपाय कर रहा है। निगम ने खुले में मलबा डालने व खुले में कूड़ा जलाने कि जांच हेतु एक विशेष कार्यबल का गठन भी किया है, जो क्षेत्र में निरीक्षण कर इन सभी गतिविधियों पर रोक लगाने का कार्य करेगा।

प्रदूषण की रोकथाम के लिए ईस्ट एमसीडी ने उतारी अत्याधुनिक मशीनें
वायु प्रदूषण को रोकने के लिए पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने अत्याधुनिक मशीनें उतार दी है, साथ ही छापेमारी को भी बढ़ाया गया है। पूर्वी दिल्ली नगर निगम के महापौर निर्मल जैन ने बताया कि निगम ने 30 टीम गठित की गई है, जो दिन रात क्षेत्र में गश्त करेंगी। निगम ने प्रदूषण की रोकथाम की दिशा में कार्य करते हुए करीब 600 से 700 मिट्रिक टन निर्माण एवं विध्वंस अपशिष्ट उठाकर शास्त्री पार्क स्थित सीएंडडी प्लांट ले जाया जा रहा है।

साथ ही घरों से गीला व सूखा कचरा अलग-अलग कर संग्रहित करके परिवहन का कार्य भी शुरू कर दिया गया है। अभी यह कार्य 8 वार्डों में शुरू किया गया है लेकिन इस वर्ष के अंत तक सभी 64 वार्डों में यह कार्य शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि निगम 40 वाटर स्प्रिंकलर द्वारा सड़कों पर पानी के छिड़काव किया जा रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें