उम्मीद:सत्येंद्र जैन ने कहा सरकार का सबसे अधिक ध्यान ऑक्सीजन बेड बढ़ाने पर है

नई दिल्ली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जैन ने कहा कि कोरोना से मृत्यु को लेकर सरकार कुछ नहीं छुपा रही। - Dainik Bhaskar
जैन ने कहा कि कोरोना से मृत्यु को लेकर सरकार कुछ नहीं छुपा रही।

कोरोना संक्रमितों के बेतहाशा वृद्धि के कारण दिल्ली में ऑक्सीजन की मांग बढ़ी है, इसलिए दिल्ली सरकार का सबसे अधिक ध्यान ऑक्सीजन बेड बढ़ाने पर है। इसके साथ ही दिल्ली सरकार की वैक्सीनेशन को लेकर पुरी तैयारी कर चुकी है, कंपनियों से वैक्सीन मिलते ही हम सभी पात्र लोगों को वैक्सीन लगाएंगे।

यह बात गुरुवार को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेन्द्र जैन पत्रकारों को जानकारी दी। इसके साथ स्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना से हो रही मृत्यु को लेकर विपक्ष पर हमला भी बोला। जैन ने कहा कि कोरोना से मृत्यु को लेकर सरकार कुछ नहीं छुपा रही, मृत्यु प्रमाण पत्र से मौत का कारण कोरोना लिखा रहता है, यह राजनीति का समय नहीं है, विपक्ष मिलकर काम करें। स्वास्थ्य मंत्री ने आगे कहा कि इस बार जो कोरोना की लहर आई है, यह पहले की तीन लहर से बिल्कुल अलग है। पहले हमारे कोविड केयर सेंटर में हजारों लोग होते थे, लेकिन इस बार की लहर में जो भी मरीज आ रहे हैं, उनको ऑक्सीजन की ज्यादा जरूरत पड़ रही है। इसलिए कोविड केयर सेंटर में बहुत कम लोग जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सीएम अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार का सबसे अधिक ध्यान ऑक्सीजन बेड बढ़ाने पर है। दिल्ली के अंदर बहुत अधिक ऑक्सीजन की मांग बढ़ी है। एकदम से यह मांग बढ़ गई है। दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में करीब 19 हजार मरीज भर्ती हैं और उन सभी लोगों को ऑक्सीजन चाहिए। इनके अलावा भी बहुत से लोग हैं, जिनको ऑक्सीजन की आवश्यकता है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि यह राजनीति का समय नहीं है। छह माह पहले भी विपक्ष ने शोर मचाया था, जबकि सब कुछ ठीक था। उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि पहली बात तो कोई नहीं चाहेगा कि एक भी मौत हो। दूसरी बात यह कि किसके पास अधिकार है। दिल्ली में मृत्यु प्रमाण पत्र किसी का न बन रहा हो, तो बताए। सबका मृत्यु प्रमाण पत्र बन रहा है और उस पर लिखा रहता है कि कोरोना से मौत हुई है। दिल्ली के अंदर सब कुछ पारदर्शी है। हम कभी भी कोई बात नहीं छिपाते हैं और न आगे भी छिपाएंगे।

दिल्ली में संक्रमण दर में गिरावट, कोरोना के नियंत्रण की जगी उम्मीद
नई दिल्ली| कोरोना से मची अफरा-तफरी के बीच दिल्ली में कोरोना के संक्रमण दर को लेकर आशा की किरण दिखी है। कुछ दिनों से कोरोना की बेतहाशा बढ़ रही कोरोना संक्रमितों के दर में गिरावट देखने को मिली है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेन्द्र जैन ने कहा है कि चार दिन पहले तक संक्रमण दर 35 फीसदी से अधिक थी, जो अब 31.76 फीसदी पर आ गई है।

कोरोना संक्रमण में आई गिरावट से कोरोना नियंत्रण में लगी टीम को दिल्ली में कोरोना संक्रमण के काबू में आने को लेकर उम्मीद की एक किरण नजर आई है। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने आज दिल्ली में कोरोना के मौजूदा हालात पर जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली में कल 25,986 कोरोना के नए केस आए थे और संक्रमण दर 31.76 फीसद थी।

हमारे पास वैक्सीन नहीं, आते ही लगाएंगे
सत्येंद्र जैन ने दिल्ली में वैक्सीनेशन को लेकर कहा कि अभी हमारे पास वैक्सीन नहीं है। इसके लिए हमने कंपनी से अनुरोध किया है। कंपनी जैसे ही वैक्सीन दे देती है, हम सभी को वैक्सीन लगाएंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार की तरफ से वैक्सीनेशन को लेकर सभी तैयारियां की जा चुकी हैं, लेकिन उसके लिए वैक्सीन का उपलब्ध होना जरूरी है। अभी हमारे पास वैक्सीन नहीं है। उन्होंने कहा कि यह पता चला है कि वैक्सीन का उत्पादन बहुत अधिक नहीं है। जैसे ही कंपनियां हमें एक शेड्यूल दे देती हैं कि कितनी-कितनी वैक्सीन कब-कब देंगी, तो हम तुरंत वैक्सीनेशन शुरू कर देंगे।

खबरें और भी हैं...