पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • States Will Not Be Able To Make Vaccine Stock Data Public; The Center Also Considered The Storage Temperature As Sensitive Data.

केंद्र सरकार के निर्देश:राज्य टीके के स्टाॅक का डेटा सार्वजनिक नहीं कर सकेंगे; स्टाेरेज तापमान को भी केंद्र ने संवेदनशील डेटा माना

नई दिल्ली8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्र ने संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) के समर्थन से यूआईपी के तहत ईवीआईएन प्रणाली शुरू की है। - Dainik Bhaskar
केंद्र ने संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) के समर्थन से यूआईपी के तहत ईवीआईएन प्रणाली शुरू की है।

केंद्र सरकार ने राज्याें और केंद्रशासित प्रदेशाें काे चिट्ठी लिखी है। इसमें उन्हें वैक्सीन के स्टाॅक और उसके स्टाेरेज के तापमान काे सार्वजनिक नहीं करने का निर्देश दिया गया है। केंद्र सरकार ने कहा है कि इलेक्ट्राॅनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क (ईवीआईएन) सिस्टम पर माैजूद टीकाें के स्टाॅक और उसके तापमान की जानकारी संवेदनशील सूचना है और इसका उपयाेग केवल कार्यक्रम में सुधार के लिए किया जाना है।

प्रजनन एवं बाल स्वास्थ्य (आरसीएच) सलाहकार प्रदीप हलदर के दस्तखत वाली चिट्टी में कहा गया है कि ईवीआईएन के डेटा और विश्लेषण स्वास्थ्य मंत्रालय के स्वामित्व में हैं और इसे मंत्रालय की सहमति के बिना किसी अन्य संगठन, भागीदार एजेंसी, मीडिया, ऑनलाइन और ऑफलाइन सार्वजनिक मंचों के साथ साझा नहीं किया जाना चाहिए।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि केंद्र ने संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) के समर्थन से यूआईपी के तहत ईवीआईएन प्रणाली शुरू की है। इसका उपयोग राष्ट्रीय से लेकर उपजिला स्तर तक वैक्सीन स्टॉक की स्थिति और तापमान को ट्रैक करने के लिए किया जाता है। इसलिए डेटा को संवेदनशील माना है।

खबरें और भी हैं...