राजधानी के पंजाबी बाग इलाके का मामला:ब्लैक में ऑक्सीजन मुहैया कराने वाले दो गिरफ्तार, सिलेंडर और कार जब्त; आरोपी पेशे से बिजनेसमैन

नई दिल्ली6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लोगों की मजबूरी का फायदा उठा इस काम में लगे

कोरोना संकट में ब्लैक मार्केटिंग करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई होने का सिलसिला जारी है। इस बार वेस्ट दिल्ली के पंजाबी बाग इलाके से दो लोगों को अरेस्ट किया गया है, जो ब्लैक में ऑक्सीजन सिलेंडर बेचने का गौरखधंधा कर रहे थे। इनकी पहचान विकासपुरी निवासी श्रेय ऑबराय (30) व शालीमार बाग निवासी अभिषेक नंदा (32) के तौर पर हुई।

पुलिस ने इनके पास से दस लीटर की क्षमता वाले चार ऑक्सीजन सिलेंडर, एक बड़ा कर्मिशियल ऑक्सीजन सिलेंडर और हुंडई वर्ना कार बरामद की है। आरोपी आनॅलाइन ई टॉयस और सिलिंग फैन मोटर और ब्लेड के बिजनेस से जुड़े हुए थे।

पुलिस के मुताबिक एक सूचना के आधार पर पुलिस ने यह कार्रवाई की। पता चला था दोनों आरोपी ज़रुरत मंद लोगों को ऊंचे दामों पर ऑक्सीजन सिलेंडर ब्लैक में बेच रहे हैं। आरोपी श्रेय ऑबराय को जब पकड़ा गया था तब उसकी कार से दो ऑक्सीजन सिलेंडर मिले थे।

इसने पूछताछ में बताया एक ऑक्सीजन सिलेंडर 37 हजार रुपए में खरीदा है, जिसे आगे वह पचास हजार रुपए में बेच देगा। वह ऑनलाइन टॉय बिजनेस करता है। ये सिलेंडर उसने अभिषेक नंदा से लिए थे, जो लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर मुहैया कराने के काम में लगा है। इसके बाद पुलिस ने दूसरे आरोपी को भी दबोच लिया। उसने बताया वह ऑक्सीजन सिलेंडर 37 हजार रुपए में बेच रहा है। इसके पास से भी तीन ऑक्सीजन सिलेंडर मिले।

खबरें और भी हैं...