पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Vaccine Tota, Yet The Most Wasted In Haryana And Tamil Nadu, 23% Dose Of Vaccine In The Country Is Poor Till April 11

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बड़ी लापरवाही:टीके का टोटा, फिर भी हरियाणा और तमिलनाडु में सर्वाधिक बर्बादी, 11 अप्रैल तक देश में वैक्सीन की 23% डोज खराब

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बढ़ते संक्रमण के बीच मुंबई में स्वास्थ्यकर्मियों का वैक्सीनेशन जारी है। - Dainik Bhaskar
बढ़ते संक्रमण के बीच मुंबई में स्वास्थ्यकर्मियों का वैक्सीनेशन जारी है।
  • राज्यों ने 11 अप्रैल तक कुल 10.34 करोड़ डोज में से 44.78 लाख टीके बर्बाद कर दिए
  • केरल, हिमाचल, गोवा, बंगाल में एक भी डोज खराब नहीं हुई

कोरोना की दूसरी लहर से एक ओर जहां देश में हाहाकार मचा है वहीं, कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां टीकों की भारी बर्बादी हो रही है। कोरोना की भयावहता से बचने के लिए वैज्ञानिक ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण पर जोर दे रहे हैं। वहीं, कई राज्य ऐसे हैं जहां 23 फीसदी तक टीका बर्बाद हो गया। टीके की बेकद्री करने वाले राज्यों में तमिलनाडु (12.10 फीसदी) सबसे आगे है। एक आरटीआई पर मिली जानकारी के मुताबिक राज्यों ने 11 अप्रैल तक कुल 10.34 करोड़ डोज में से 44.78 लाख टीके बर्बाद कर दिए।

जिन राज्यों ने सबसे ज्यादा डोज बर्बाद किए उनमें तमिलनाडु के बाद हरियाणा (9.74%), पंजाब (8.12%), मणिपुर (7.8%) और तेलंगाना (7.55%) हैं। हालांकि केरल, पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, मिजोरम, गोवा, दमन और दीव, अंडमान-निकोबार द्वीप समूह और लक्षद्वीप में वैक्सीन की बर्बादी नहीं हुई। यह जानकारी ऐसे समय में सामने आई है जब सरकार ने 1 मई से 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को टीका लगने की घोषणा की है। गौरतलब है कि पिछले दिनों महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ ओडिशा समेत कई राज्यों ने टीके की कमी की शिकायत की थी।

रेमडेसिविर की उपलब्धता बढ़ेगी, अब 40 कंपनियों में बनेगी

रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी दूर करने के लिए सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन ने इंजेक्शन बनने के बाद बाजार में लाने से पहले रैपिड जांच की इजाजत दी है। पहले जांच में दो हफ्ते लगते थे अब दो-तीन दिन लगेंगे। अमेरिका की गिल्याड कंपनी ने भारत की जिन 7 कंपनियों को रेमडेसिविर बनाने की अनुमति दी है उन्हाेंने 33 अन्य कंपनियों से इसके निर्माण का करार किया है। जल्द ही कंपनियां इंजेक्शन बनाएंगी। ऐसे में अगले हफ्ते तक इंजेक्शन की कमी दूर हो जाएगी।

इस दवा की जरूरत सबको नहीं
नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) प्रो. वीके पॉल और एम्स निदेशक प्रो. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि रेमडेसिविर की जरूरत सभी मरीजों को नहीं है। सिर्फ मॉडरेट यानी जो मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं उनमें ही ज्यादा फायदा होता है। बाकी मरीजों को देने पर नुकसान भी हो सकता है। इस इंजेक्शन को इन्वेस्टिगेशनल थेरेपी के तौर इस्तेमाल की इजाजत दी गई थी लेकिन अभी गैरजरूरी इस्तेमाल हो रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा- कोरोना वैक्सीन निर्माता क्षमता बढ़ाएं

पीएम ने वैक्सीन निर्माताओं से उत्पादन क्षमता बढ़ाने को कहा। उन्होंने हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया। उधर, वैक्सीन उत्पादन के लिए जरूरी सामग्री के निर्यात पर बाइडेन प्रशासन ने आश्वस्त किया कि वह भारत की जरूरताें काे समझता है और इस पर विचार करेगा।

उत्तर प्रदेश और असम में 18 साल आयु वर्ग वालाें काे भी मुफ्त लगेगी कोरोना वैक्सीन

लखनऊ, उत्तर प्रदेश में अब 18 साल से ऊपर के लोगों को भी मुफ्त वैक्सीन लगाई जाएगी। राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में यह निर्णय लिया गया। लेकिन जो लोग टीक की कीमत चुकाने में सक्षम हैं, उनसे अपील की जा सकती है कि वह निजी अस्पतालों में टीका लगवाएं। असम में भी तीसरे चरण में 18 वर्ष आयु वर्ग काे भी निशुल्क वैक्सीन डाेज देने की तैयारी है।

  • देश में अब तक 12.7 करोड़ डोज लगाए गए
10.34 करोड़ डोज में 44.78 लाख टीके बर्बाद हो गए
10.34 करोड़ डोज में 44.78 लाख टीके बर्बाद हो गए
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

    और पढ़ें