• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • 20 Km New Line Laid Near The Descent Of The Dedicated Freight Corridor, 30 Km Has Been Laid So Far

परियोजना:डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर की उत्राण के पास बिछाई गई 20 किमी नई लाइन, अब तक 30 किमी बिछ चुकी है

सूरत6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (डीएफसी) की लाइन बिछने का काम तेजी से शुरू है। यह काम अब शहर तक पहुंच गया है। इसे सूरत समेत दक्षिण गुजरात में विभिन्न उद्योगों में जबरदस्त तेजी आएगी। साथ ही तमाम फैक्ट्रियों और उद्योगों को इस डीएफसी लाइन से जोड़ा जाएगा। डीएफसी की यह लाइन उत्राण के पास तेजी से बिछाई जा रही है।

पिछले एक हफ्ते में कुड़साड और गोठनगाम के पास फ्रेट कॉरिडोर की लगभग 20 किमी और नई लाइन बिछा दी गई है। उल्लेखनीय है कि उधना के पास नियोल में ताप्ती रेल लाइन से जोड़ी जाएगी। ताकि मध्य रेलवे की ओर से आने वाली मालगाड़ियां नियोल से डाइवर्ट होकर डीएफसी लाइन पर जा सके और डीएफसी लाइन की ट्रेनें ताप्ती रेल लाइन पर डायवर्ट होकर मेन लाइन पर आ सके।

उधना के पास बनेगा एक फ्रेट स्टेशन | शहर के आसपास इस परियोजना के अंतर्गत बिछने वाली लगभग 20 से 25 किमी लाइन बिना काम प्रभावित किए आगे बढ़ रही हैं। फेज 2 के इस सेक्शन के अंतर्गत 20 से 25 किमी फ्रेट लाइन सूरत शहर के पूर्वी इलाके से बाहर की तरफ कामरेज के पास लसकाना और वालक गांव से होकर गुजर रही है।

इस परियोजना में सूरत शहर में उधना के पास एक फ्रेट स्टेशन का निर्माण होना है, जिसका नाम न्यू उधना रेलवे फ्रेट स्टेशन होगा। इस परियोजना को अगले दो वर्ष पूरा कर लिया जाना है। इसे सूरत समेत दक्षिण गुजरात में विभिन्न उद्योगों में जबरदस्त तेजी आएगी।

खबरें और भी हैं...