एंटी डस्ट कैंपेन अभियान में तेजी:दिल्ली में प्रदूषण फैलाने वाली कंस्ट्रक्शन साइट्स पर लगा ‌53 लाख का जुर्माना

नई दिल्ली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डस्ट से प्रदूषण फैलाने वाली 165 कंस्ट्रक्शन साइटों को डीपीसीसी ने जारी किया नोटिस। - Dainik Bhaskar
डस्ट से प्रदूषण फैलाने वाली 165 कंस्ट्रक्शन साइटों को डीपीसीसी ने जारी किया नोटिस।

एक सप्ताह से दिल्ली में बढ़ती प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली सरकार एंटी डस्ट कैंपेन अभियान में तेजी लाई है। डीपीसीसी के अधिकारियों के साथ पर्यावरण मंत्री ने भी बुधवार को डब्लूएचओ की कंस्ट्रक्शन साइटों का दौरा किया। अनियमितता पाए जाने के बाद डब्लूएचओ के कंस्ट्रक्शन साइट को प्रदूषण फैलाने के लिए डीपीसीसी ने नोटिस जारी किया।

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल रॉय ने बताया कि अभी तक डीपीसीसी ने दिल्ली में 522 कंस्ट्रक्शन साइटों का निरीक्षण किया है। इसमें 165 निर्माण स्थलों पर धूल उड़ने से बचने के लिए किए गए उपायों में अनियमितता पाए जाने नोटिस दिया है। धूल से प्रदूषण फैलाने वाली 165 कंस्ट्रडीपीक्शन साइटों पर डीपीसीसी ने 53.50 लाख का भारी भरकम रुपए का जुर्माना भी किया है।

पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बताया कि बुधवार को एंटी डस्ट कैंपेन के तहत आईपी इस्टेट, महात्मा गांधी मार्ग पर स्थित डब्लूएचओ बिल्डिंग निर्माण साइट का निरीक्षण किया। गोपाल राय ने बताया कि डब्लूएचओ के कंस्ट्रक्शन साइट पर सभी मानदंडों का पालन होता पाया गया, लेकिन खुले में रेत मिली और साइट पर काम कर रहे मजदूरों को मास्क नहीं दिया जा रहा है। मैंने डीपीसीसी को निर्देश दिया है कि निर्माण एजेंसी को नोटिस जारी किया जाए। साथ ही, चेतावनी दी गई है कि अगर अगले दो दिनो में दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करते हैं, तो उन पर जुर्माने की कार्रवाई की जाएगी।

डीपीसीसी अलग-अलग जिलों में निर्माण साइटों का कर रही है निरीक्षण
उन्होंने बताया कि एंटी डस्ट कैंपेन के अंतर्गत डीपीसीसी की टीमें अलग-अलग जिलों में जाकर निर्माण साइट का निरीक्षण कर रही हैं। इसी अभियान के तहत आज भी आईपी इस्‍टेट मार्ग पर साइट का निरीक्षण क‍या। इसके बाद प्रगति मैदान के सामने एल एंड टी (एंटी कैनाल) साइट का भी निरीक्षण क‍या। उन्होंने बताया कि वहां पर दिल्ली सरकार की तरफ से जारी दिशा-निर्देशों का बड़े पैमाने पर उल्लंघन पाया गया था जिसके बाद सरकार की तरफ से उस पर जुर्मानें की सख्त कार्रवाई की गई है। वहीं, नार्थ दिल्ली स्थित निर्माणाधीन मेट्रो मॉल कमर्शियल काम्प्लेक्स का औचक निरीक्षण किया जहां पर नियमों का अनुपालन क‍िया जाना पाया गया था।

कंस्ट्रक्शन कंपनियां दिशा निर्देश का कर रही हैं पालन
पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कंस्ट्रशन साइटों का निरीक्षण करने के बाद पाया कि अधिकतर साइटों पर प्रदूषण नियमों का उल्लंघन नहीं किया जा रहा है। गोपाल राय ने ने कहा कि हमें खुशी है कि दिल्ली सरकार की तरफ से निर्माण कार्य कर रही एजेंसियों के लिए जो भी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं, उसका यहां पर पालन किया जा रहा है।

‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ कैंपेन को सफल बनाने के लिए कवायद
पर्यावरण मंत्री ने कहा कि वाहन प्रदूषण को रोकने के लिए 18 अक्टूबर से ‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ कैंपेन चलाया जाएगा। कैंपेन को सफल बनाने को लेकर कल पर्यावरण, राजस्व, दिल्ली पुलिस एवं सिविल डिफेंस के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। इस कैंपेन को लेकर वाहन चालकों को जागरूक करने के साथ किस तरह से सफल बनाया जाए। कैंपेन की पूरी रूपरेखा बनाएंगे और 18 अक्टूबर को हम इस कैंपेन को लांच कर देंगे।

खबरें और भी हैं...