• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • ABVP Said No Leader Is Needed, We Will Get Justice, Minister Harsh Said Will Decide Today

यूनिवर्सिटी में पुलिस के गरबा रुकवाने का मामला:एबीवीपी बोली- किसी नेता की जरूरत नहीं, हम न्याय दिलाएंगे, मंत्री हर्ष बोले- आज निर्णय लेंगे

सूरतएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वीर नर्मद दक्षिण गुजरात यूनिवर्सिटी के कैंपस में हो रहे गरबा को रुकवाने के लिए पहुंची पुलिस के साथ एबीवीपी का हुए बवाल का असर तीसरे दिन भी दिखाई पड़ा। बुधवार को भी एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने समरस और गर्ल्स हॉस्टल के मुद्दे को लेकर उमरा थाने पर विरोध प्रदर्शन किया। छात्राओं ने आरोप लगाया कि हॉस्टल के गेट के बाहर असामाजिक तत्व जमा होते हैं और नशा करते हैं, लेकिन फोन करने पर पुलिस के अधिकारी कहते हैं कि थाने आकर शिकायत दर्ज कराओं।

पुलिस कोई पेट्रोलिंग नहीं करती, लेकिन यूनिवर्सिटी कैंपस में आकर दादागिरी दिखाती है। एबीवीपी के कैंपस अध्यक्ष ईशान मट्टू ने कहा है कि हम ना तो किसी भाजपा नेता के संपर्क में हैं और ना ही किसी से संपर्क करना चाहते हैं। एबीवीपी के छात्रों को पीटने वाले पुलिसकर्मियों को जब तक सस्पेंड नहीं किया जाएगा तब तक हम चुप नहीं बैठेंगे। गुरुवार से रोज कॉलेज के बाहर आंदोलन करेंगे। बुधवार को पुलिस ने एमटीबी काॅलेज के पांच छात्रों को मास्क नहीं लगाने पर पीटा। इस मामले को लेकर भी विरोध किया जाएगा।

कुलपति कमिश्नर के पास पहुंचे, मामले पर की चर्चा
बुधवार को कुलपति किशोर चावड़ा और रजिस्ट्रार जयदीप चौधरी पुलिस कमिश्नर अजय तोमर से मिलने उनके कार्यालय पहुंचे। वहां इस मामले पर चर्चा हुई। पुलिस कमिश्नर ने आश्वासन दिया है कि जो भी दोषी हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी को पुलिस जांच में सहयोग करना चाहिए।

गृह राज्यमंत्री बोले- रिपोर्ट आते ही उचित कार्रवाई होगी
इस मुद्दे पर राज्य के गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस की। इसमें उन्होंने कहा कि गुरुवार को इस मामले की जांच रिपोर्ट उनके पास आ जाएगी। रिपोर्ट आते ही जो भी उचित होगा वह निर्णय लिया जाएगा। इसके लिए 1 दिन का और इंतजार करें।

खबरें और भी हैं...