• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Afghan Student Studying In Surat Said, 'Let Us Stay In India, If You Send Us Home, The Taliban Will Loot The Respect'

दहशत में अफगानी स्टूडेंट्स:सूरत में पढ़ने वाली अफगानिस्तान की छात्रा ने कहा, 'हमें भारत में रहने दो, स्वदेश भेजेंगे तो तालिबानी इज्जत लूट लेंगे'

सूरत9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सूरत की वीर नर्मद यूनिवर्सिटी पढ़ने वाली अफगानी छात्रा की परिवार से साथ की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
सूरत की वीर नर्मद यूनिवर्सिटी पढ़ने वाली अफगानी छात्रा की परिवार से साथ की फाइल फोटो।

तालिबान के सत्ता में आने के बाद से अफगानिस्तान में हालात बदतर हो चुके हैं। इससे दुनिया भर में रह रहे अफगानी स्टूडेंट्स दहशत में हैं। सबसे ज्यादा छात्राएं डरी हुई हैं। इन्हीं में से एक सूरत में रहने वाली छात्रा ने भारत सरकार से गुहार लगाई है कि अफगानी लड़कियों को यहीं रहने दें, क्योंकि, अगर उन्हें वापस भेजा गया तो तालीबानी आतंकी उनकी इस्मत लूट लेंगे।

'तालिबान में शामिल हो जाओ, नहीं तो मैं गोली मार देंगे'
वहीं, एक अफगानी छात्र अरेज़ो रहीम ने बताया कि उनका परिवार काबुल में रहता है। मैंने कल ही उनसे बात की तो पापा ने कहा कि हमारा पूरा इलाका तालिबानियों ने घेर रखा है। वे हरेक से यही बोल रहे हैं कि तालीबान को ज्वॉइन कर लो, वरना एक-एक को गोली मार देंगे।

अहमदाबाद में पढ़ने वाले अफगानी स्टूडेंट्स।
अहमदाबाद में पढ़ने वाले अफगानी स्टूडेंट्स।

रहीम कहते हैं कि मेरे पिता अफगान सेना में थे और करीब 4 महीने पहले ही रिटायर्ड हुए हैं। तालिबानियों की धमकी के बाद पिता कहीं छिप गए हैं। तालिबानियों ने घर में घुसपैठ की और महिलाओं के साथ भी बुरा सुलुक किया। उन्होंने सभी लड़कों को तालिबान में शामिल होने की धमकी दी है। भारत सरकार से मेरी मांग है कि हमारे परिवार को कुछ समय के लिए भारत आने दिया जाए।

अफगानी छात्रों ने सांसद को लिखा पत्र
छात्र चाहते हैं कि उनका वीजा बढ़ाया जाए ताकि वे भारत में कुछ समय और सुरक्षित रह सकें। वहीं, यूनिवर्सिटी के चांसलर एन चावड़ा ने बताया कि अफगान 7 अफगान छात्रों ने अपने परिवारों को भारत लाने के लिए सांसद सी.आर. पाटिल को पत्र लिखा है।

पकड़ा गया भाई, पता नहीं अब किन हालातों में है?
एक अन्य छात्र ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि 'मेरा घर काबुल में है, मेरे घर में 4 भाई और 5 बहनें हैं। मेरा एक भाई सेना में था और उसे तालिबान ने पकड़ लिया है। इस समय वह कहां और किस हालात में है, किसी को नहीं पता। मेरे घर में परिवार के सभी सदस्य कहीं छिप गए हैं। कुछ दिनों में नेटवर्क सेवा बंद हो जाएगी तो उनसे बातचीत भी बंद हो जाएगी।

खबरें और भी हैं...