पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Patel To Be Buried Next To Parents' Grave, Rahul Gandhi Arrives In Gujarat To Attend Funeral

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अहमद पटेल सुपुर्द-ए-खाक:राहुल गांधी ने दिया कंधा; कमलनाथ, भूपेश बघेल, सुरजेवाला सहित कई कांग्रेसी नेता पिरामण गांव पहुंचे

भरूच2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
माता-पिता की कब्र के पास ही सुपुर्द-ए-खाक हुए अहमद पटेल। - Dainik Bhaskar
माता-पिता की कब्र के पास ही सुपुर्द-ए-खाक हुए अहमद पटेल।
  • कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल (71) का बुधवार तड़के निधन हो गया था
  • कोरोना संक्रमित होने के बाद उन्हें 15 अक्टूबर को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और गुजरात से राज्यसभा सांसद अहमद पटेल को गुरुवार सुबह अपने पैतृक गांव पिरामण में सुपुर्द-ए-खाक हो गए। पटेल 1 अक्टूबर को कोरोना संक्रमित हुए थे और बुधवार तड़के दिल्ली के अस्पताल में उनका में निधन हो गया था। भरूच जिले के पिरामण गांव के रहने वाले अहमद पटेल की इच्छा थी कि उनकी दफनविधि पीरामण गांव में ही माता-पिता की कब्र के पास की जाए। इसीलिए माता-पिता की कब्र के बगल में ही उनकी कब्र बनाई गई थी।

राहुल गांधी आज सुबह ही गुजरात पहुंचे और उनकी अर्थी को कंधा दिया।
राहुल गांधी आज सुबह ही गुजरात पहुंचे और उनकी अर्थी को कंधा दिया।

राहुल गांधी ने दिया कंधा

पिरामण गांव के पैतृक घर से उनका जनाजा कब्रिस्तान ले जाया गया। इस दौरान राहुल गांधी ने भी उनकी अर्थी को कंधा दिया। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला सहित गुजरात के कई कांग्रेसी नेता भी उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने पिरामण गांव पहुंचे थे।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ भी पहुंचे पिरामण गांव।
मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ भी पहुंचे पिरामण गांव।

दिल्ली से काल रात करीब 8.30 बजे उनकी पार्थिव देह चार्टर्ड प्लेन से वडोदरा लाया गया था और रात में ही उनका शव सरदार पटेल हॉस्पिटल हार्ट इंस्टीट्यूट में रखा गया था, जहां से आज सुबह करीब 7 बजे पिरामण गांव लाया गया। उनके निधन की खबर सुनकर पूरे गांव में मातम छा गया। अहमद पटेल का पिरामण गांव से बहुत लगाव था। इसी के चलते हरेक मौके पर वे गांव आया करते थे।

माता-पिता के कब्र के बगल में खोदी गई है अहमद पटेल की कब्र।
माता-पिता के कब्र के बगल में खोदी गई है अहमद पटेल की कब्र।

परिवार में एक बेटा और बेटी
अहमद पटेल राजनीति में काफी कामयाब रहे। हालांकि, उन्होंने इससे परिवार को काफी दूर रखा। अहमद पटेल की 1976 में मेमुना अहमद से शादी हुई थी। उनके बेटे फैजल पटेल बिजनेसमैन हैं और उनका राजनीति से दूर-दूर तक का रिश्ता नहीं हैं। वहीं, बेटी मुमताज की शादी भी वकील इरफान सिद्दिकी से हुई है।

पिता पंचायत के सदस्य थे
मोहम्मद इशाजी पटेल और हवाबेन मोहम्मद की संतान अहमद पटेल का जन्म भरूच के पिरामण गांव में 1949 को हुआ था। पिता भरूच तहसील की पंचायत के सदस्य और तहसील के चर्चित नेता थे। इसी के चलते शुरुआत से ही अहमद पटेल की राजनीति में रुचि रही और पिता ने भी राजनीतिक करियर बनाने में उनकी खूब मदद की।

पिरामण गांव में अहमद पटेल के घर के बाहर जमा गांव के लोग।
पिरामण गांव में अहमद पटेल के घर के बाहर जमा गांव के लोग।

28 साल में सांसद बन गए थे
पटेल का जन्म 21 अगस्त 1949 को गुजरात के भरूच जिले के पिरामण गांव में हुआ था। वे 3 बार लोकसभा सांसद (1977 से 1989) और 4 बार राज्यसभा सांसद (1993 से 2020) रहे। उन्होंने पहला चुनाव 1977 में भरूच लोकसभा सीट से लड़ा था और 62 हजार 879 वोटों से जीते थे। तब उनकी उम्र सिर्फ 28 साल थी। 1980 में पटेल भरूच से ही 82 हजार 844 वोटों से और 1984 में 1 लाख 23 हजार 69 वोटों से जीत दर्ज की थी।

पिरामण गांव में अहमद पटेल का घर।
पिरामण गांव में अहमद पटेल का घर।

सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार थे अहमद पटेल
अहमद पटेल 2001 से सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार थे। जनवरी 1986 में वे गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष बने थे। 1977 से 1982 तक यूथ कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भी रहे. सितंबर 1983 से दिसंबर 1984 तक वे कांग्रेस के जॉइंट सेक्रेटरी रहे। बाद में उन्हें कांग्रेस का कोषाध्यक्ष बनाया गया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser