• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • ATS Arrested Asraf Nagori From Maharashtra, Was Absconding For 9 Months In GujsiTalk Case

पुलिस की कार्रवाई:एटीएस ने असरफ नागौरी को महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया, गुजसीटॉक मामले में 9 महीने से फरार था

सूरत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एटीएस की टीम अशरफ नागौरी को नवापुर से गिरफ्तार कर अहमदाबाद ले गई। - Dainik Bhaskar
एटीएस की टीम अशरफ नागौरी को नवापुर से गिरफ्तार कर अहमदाबाद ले गई।
  • केस दर्ज होने के बाद नागाैरी नाम बदल बंगाल में रह रहा था

गुजरात आतंकरोधी दस्ते (एटीएस) गैंगस्टर असरफ नागौरी को महाराष्ट्र से गिरफ्तार किया है। उसके खिलाफ 9 माह पहले लालगेट थाने में संगठित अपराध एवं आतकंवाद नियंत्रण विधेयक (गुजसीटॉक) के तहत केस दर्ज हुआ था। इसके बाद से ही वह फरार हो गया था और बदलकर पश्चिम बंगाल में रहने लगा था। वहां से महाराष्ट्र के नवापुर में आ गया था।

जानकारी के अनुसार गैंगस्टर अशरफ नागौरी रामपुरा में स्थित पस्तागिया शेरी में रहता है। उसके खिलाफ आर्म्स एक्ट, फायरिंग, धमकी, फिरौती समेत कई गंभीर अपराध अलग-अलग थानों में दर्ज हैं। 9 महीने पहले लालगेट थाने में उसके खिलाफ गुजसीटॉक के तहत मामला दर्ज हुआ था।

केस दर्ज होने के बाद नागौरी पश्चिम बंगाल चला गया था। तीन-चार महीने वहां नाम बदल कर रहा। इसके बाद महाराष्ट्र के नवापुर में आकर रहने लगा था। नागौरी अभी अहमदाबाद पुलिस की हिरासत में हैं। पूछताछ के बाद सूरत पुलिस के हवाले कर दिया जाएगा।

गैंगस्टर अशरफ नागौरी के खिलाफ 24 गंभीर अपराध दर्ज हैं

अशरफ नागौरी के खिलाफ 11 जनवरी को दि गुजरात कंट्रोल ऑफ टेररिज्म अंडर ऑर्गेनाइजेशन क्राइम एक्ट (गुजसीटॉक) के तहत लालगेट थाने में केस दर्ज हुआ था। गैंगस्टर नागौरी आर्म्स एक्ट समेत 24 गंभीर अपराधों में शामिल है। वर्ष 2003 में सूरत और अहमदाबाद में पोटा (प्रिवेंशन ऑफ टेररिज्म एक्ट) के तहत गिरफ्तार हुआ था।

वर्ष 2013 में सूरत पुलिस ने पकड़कर पासा में डाल दिया था। वर्ष 2005-10 के दौरान हसमुख लालवाला फायरिंग केस में 7 साल की सजा हुई थी। अहमदाबाद में 2003 में आतंकवादी गतिविधियों में 54 आरोपी गिरफ्तार हुए थे।

खबरें और भी हैं...