पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अस्पताल में भर्ती मरीज ने बनाया वीडियो:सिविल में भर्ती मरीज ने लगाया आरोप स्टाफ मुफ्त का पानी ~100 में बेच रहे

सूरत14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वीडियो बनाने वाले मरीज के बेड पर रखी पानी की बोतलें - Dainik Bhaskar
वीडियो बनाने वाले मरीज के बेड पर रखी पानी की बोतलें
  • सिविल में यह वूसली का पहला मामला नहीं है

शहर के सबसे बड़े कोविड अस्पताल सिविल में मरीजों को मुफ्त के पानी के भी पैसे देने पड़ रहे हैं। जो पीने का पानी मरीजों को निशुल्क मिलना चाहिए, वह 100 रुपए प्रति बोतल तक बेचा जा रहा है। पानी की बिक्री को उजागर करता एक वीडियो सामने आया है।

यह वीडियो अस्पताल में भर्ती एक मरीज ने बनाया। मरीज का आरोप है कि अस्पताल स्टाफ पीने के पानी की बोतल के लिए सौ रुपए ले रहे हैं। उसने अपने एक रिश्तेदार के माध्यम से यह वीडियो अस्पताल प्रबंधन को भी दिखाया, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

सिविल में मरीज और उनके परिजन से वसूली का यह पहला मामला नहीं है। भास्कर ने कुछ दिन पहले भी मरीज तक भोजन, पानी, दवा एवं अन्य सामान पहुंचाने के लिए अस्पताल स्टाफ द्वारा पैसे लेने का खुलासा किया था। अब सिविल में पानी की बिक्री का नया मामला सामने आया है।

कोविड अस्पताल होने के कारण परिजनों को वार्ड में एंट्री नहीं है, इसलिए अस्पताल स्टाफ अपनी मनमानी करता है। मरीजों की मजबूरी यह है कि उन्हें जिंदा रहना है, इसलिए वे स्टाफ की हर जायज-नाजायज बात मान लेते हैं।

शर्मनाक: मुफ्त में मिलने वाले पानी से कर रहे कमाई

सिविल अस्पताल भर्ती मरीजों को पीने का पानी सरकार की ओर से निशुल्क उपलब्ध कराया जाता है। रोजाना पर्याप्त पानी की बोतलें हर वार्ड में पहुंचाई जाती है। लेकिन यह पानी मरीजों को दिया नहीं जाता है। मरीज पानी मांगता है तो बताया जाता है कि बोतल खत्म हो गई और बाहर से पानी मंगाना पड़ेगा।

लाचार मरीज बाहर से पानी मंगाने पर सहमति दे देते हैं। इसके बाद स्टाफ की एक बोतल पानी के लिए मुहमांगी राशि लेते हैं। खास बात यह है कि जो पानी सरकार की ओर भेजा गया है, वहीं बोतल पैसे लेकर मरीज को दे दी जाती है।

अस्पताल से जाने से पहले बनाया वीडियो

सिविल में भर्ती मरीज ने डिस्जार्च होने से एक दिन पहले वीडियो बनाया ताकि सच्चाई सामने आ सके। उसने अपने रिश्तेदार को यह वीडियो भेजा और कहा कि वह अस्पताल प्रबंधन को दिखाए। दो दिन पहले रिश्तेदार ने यह वीडियो अस्पताल प्रबंधन को दिखाया। प्रबंधन ने कार्रवाई का आश्वासन दिया। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

मोबाइल चोरी से भी परेशान

अस्पताल में मरीजों को भर्ती करवाते वक्त परिजनों की तरफ से उन्हें एंड्रॉयड फोन दिए जाते हैं, जिससे मरीज अपना हाल-चाल परिजनों को बता सके और वीडियो कॉलिंग से बात कर सके। कुछ मरीज ऐसे हैं, जो पने परिजनों से बात नहीं कर पाते हैं। इसका कारण है कि वार्ड से उनका फोन चोरी हो जाता है। अस्पताल में मोबाइल चोरी की कई घटनाएं सामने आ चुकी है। हाल ही में सीसीटीवी में एक घटना कैद हुई थी, जिसमंे सफाई कर्मचारी मोबाइल चोरी करते हुए दिख रहा था।

पानी तो बाहर से लाना पड़ेगा

नाम नहीं छापने की शर्त पर मरीज ने भास्कर को बताया कि जब मैं अस्पताल में भर्ती था तो पीने के पानी नहीं मिलता था। सरकारी पानी बेचा जा रहा था, इसलिए वीडियो बनाया। मैंने पीने का पानी मांगा, लेकिन किसी ने कोई जवाब नहीं दिया। कई बार आवाज लगाने के बाद भी पानी नहीं मिला।

थोडी देर बाद मैंने वहां कार्यरत एक व्यक्ति को बुलाया। उसने कहा कि यहां पानी की व्यवस्था नहीं है। बाहर से खरीद कर लाना पड़ेगा। मरीज ने उस व्यक्ति को पानी लाने भेज दिया। थोडी देर बाद वह सरकारी पानी की बोतल लेकर आया और सौ रुपए मांगे। मरीज ने बोतल चेक की तो साफ हुआ कि यह वही पानी की बोतल है, जो निशुल्क दी जाती है।

ऐसा कोई मामला सामने नहीं आया

अभी इस तरह के किसी भी मामले की जानकारी नहीं है, ऐसी कोई जानकारी आती है तो उसकी जांच कर कार्रवाई कर आरोपी के खिलाफ कार्रवाई किया जाएगा। सिविल अस्पताल में मरीज के लिए सभी चीजें मुफ्त है, किसी भी चीज के लिए किसी को पैसे देने की जरूरत नहीं हैं।
-डॉ. धारित्री परमार, एडि. सुपरि., सिविल अस्पताल

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

    और पढ़ें