• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Coast Guard Rescues 12 Cargo Ships From Mundra Port Of Gujarat Going To Djibouti, Africa

रेस्क्यू ऑपरेशन:गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह से अफ्रीका के जिबूती जा रहा मालवाहक जहाज डूबा, कोस्ट गार्ड ने 12 की जान बचाई

कच्छएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मालवाहक जहाज के क्रू मेंबर्स का रेस्क्यू करते भारतीय कोस्ट गार्ड। - Dainik Bhaskar
मालवाहक जहाज के क्रू मेंबर्स का रेस्क्यू करते भारतीय कोस्ट गार्ड।
  • जहाज गुजरात में मुंद्रा से जिबूती के लिए रवाना हुआ था, जिसमें 905 टन चावल और चीनी थी
  • साउदर्न रॉबिन से सटीक जगह की जानकारी के बाद कोस्ट गार्ड शिप सी-411 ने तलाशी अभियान चलाया

गुजरात के पुराने मुंद्रा पोर्ट से अफ्रीका के जिबूती के सफर पर निकला एक मालवाहक जहाज रविवार रात को डूब गया। हालांकि, भारतीय कोस्ट गार्ड ने जहाज में सवार क्रू मेंबर सहित 12 लोगों को बचा लिया। जहाज डूबने का हादसा गुजरात के तट पर स्थित ओखा से करीब 18 किलोमीटर दूर अरब सागर के पास हुआ। जहाज का नाम कृष्ण-सुदामा था।

चावल और शक्कर लदी थी जहाज में
जहाज 26 सितंबर की सुबह गुजरात में मुंद्रा से जिबूती के लिए रवाना हुआ था, जिसमें 905 टन चावल और चीनी थी। माल का अनुमानित कीमत 2 करोड़ रुपए के करीब थी। जहाज ओखा बंदरगाह से पास से गुजर रहा था। इसी दौरान जहाज में पानी भरने लगा, जिसकी जानकारी ओखा स्थित कोस्ट गार्ड को दी गई। सूचना मिलते ही तत्काल तलाशी और बचाव टीम को रवाना किया गया। कोस्ट गार्ड शिप सी-411 को ओखा से, सी-161 को मुंद्रा से घटनास्थल की ओर भेजा गया।

जहाज में 905 टन चावल और चीनी लदी थी।
जहाज में 905 टन चावल और चीनी लदी थी।

मवी साउदर्न रॉबिन को भी भेजा गया रेस्क्यू के लिए
मौसम खराब होने के चलते एमवी साउदर्न रॉबिन को भी रवाना किया गया। साउदर्न रॉबिन से सटीक जगह की जानकारी के बाद कोस्ट गार्ड शिप सी-411 ने तलाशी अभियान चलाया और डूब रहे जहाज से 12 क्रू सदस्यों को सुरक्षित बचा लिया गया। रात होने की वजह से तलाशी अभियान काफी मुश्किल भरा था। साथ ही समुद्र में मलबा बिखरा होने और मौसम के अनुकूल नहीं होने से भी दिक्कत आई। कोर्ट गार्ड शिप सी-161 ने इलाके में अभियान चलाकर यह पता लगाया कि कहीं डूबते हुए जहाज से तेल रिसाव तो नहीं हुआ।

खबरें और भी हैं...