पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Congress Canceled The State President's Rally In Patidar Areas After The Election Of The Pass

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आज चुनाव प्रचार का अंतिम दिन:पास की चुनाैती के बाद कांग्रेस ने पाटीदार क्षेत्रों में प्रदेश अध्यक्ष की रैली रद्द की

सूरत15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
तैयारी - Dainik Bhaskar
तैयारी
  • प्रचार थमने के बाद उम्मीदवार रहेंगे डोर-टू-डोर और सोशल मीडिया के सहारे
  • कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष आने वाले थे, पास का मैसेज था- बात स्वाभिमान की तो लड़ाई आर-पार की होगी

पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) की चुनाैती स्वीकार करने के बाद भी कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा की प्रचार के अंतिम दिन होने वाली अपनी रैली और सभा रद्द कर दी। कांग्रेस के प्रति पाटीदार क्षेत्रों में असंतोष का माहौल है। पास के धार्मिक मालवीया को तो कांग्रेस से टिकट मिल गया था, लेकिन उनके सहयोगी को टिकट नहीं मिलने से उन्होंने भी नामांकन नहीं किया था। इससे कांग्रेस के प्रति पास में नाराजगी है।

वहीं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पाटिल ने भी पाटीदारों को रिझाने के लिए रैली निकाली थी। वहीं कांग्रेस भी रैली की घोषणा कर दी थी। वार्ड नंबर-3 में टिकट मिलने के बावजूद पास के धार्मिक मालवीया तथा पूर्व महिला कॉर्पोरेटर सहित तीन नेताओं ने उम्मीदवारी छोड़ दी थी। जिसका पूरे पाटीदार क्षेत्रों में गहरा असर हो रहा है।

कांग्रेस ने शुक्रवार दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक बाइक-कार रैली का सरदार प्रतिमा मानगढ़ चौक मिनी बाजार में आयोजन किया था। जिसमें कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा और प्रदेश सह प्रभारी विश्वरंजन मोहंती उपस्थित होने वाले थे।

पास की तरफ से मैसेज था कि चैलेंज स्वीकार करने के लिए कांग्रेस हाईकमान का आभार...

जब बात स्वाभिमान की होगी तो लड़ाई भी आर-पार की होगी। यह मैसेज खूब सर्कुलेट हो रहा है। पास के विरोध को देखते हुए रैली में तकरार की आशंका बन रही थी, इसलिए शहर कांग्रेस समिति के प्रवक्ता किरण रायका ने मैसेज से 19 फरवरी शुक्रवार को अमित चावड़ा की अगुवाई में होने वाली बाइक-कार रैली रद्द करने की घोषणा कर दी।

20 से हथियार बंदी | शहर में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस कमिश्नर ने 20 फरवरी से हथियारबंदी की घोषणा की है। इस अधिसूचना के अनुसार हथियार, डंडा, तलवार, खंजर, बंदूक, छुरा सहित अन्य साधन जिससे शरीर को नुकसान पहुंचाया जा सकता है साथ नहीं रख सकेंगे। पत्थर, फेंकने के हथियार एवं साधनों को साथ ले जाने, एकत्रित करने अथवा तैयार करने पर रोक है।

निलेश कुंभाणी ने किया विश्वास सम्मेलन
पास के कहने पर भी नामांकन वापस नहीं लेने पर कांग्रेस के पूर्व कॉर्पोरेटर निलेश कुंभाणी ने सरदार फाॅर्म चुनाव कार्यालय पर विजय विश्वास सम्मेलन किया। शाम की जनसभा में सावरकुंडला के विधायक प्रताप दुधात, राजुला-जाफराबाद खंभात के विधायक अंबरीश तथा अन्य गणमान्य मौजूद रहे।

मतदाताओं को रिझाने का प्रयास
मनपा चुनाव प्रचार शुक्रवार शाम 5 बजे से थम जाएगा। सत्ता के लिए सभी दल एड़ी चोटी का जोर लगाकर प्रचार कर रहे हैं। गुरुवार को आखिरी रात भी सभाओं को दौर जारी रहा। जैसे-जैसे मतदान की तारीख निकट आ रही प्रचार को शोर बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को पूरे दिन प्रचार जारी रहेगा और शाम 5 बजे से प्रचार थम जाएगा। उसके बाद उम्मीदवार प्रचार नहीं कर सकेंगे। केवल डोर-टू-डोर और सोशल मीडिया के सहारे ही मतदाताओं को रिझाने का प्रयास करेंगे।

5 साल में कॉर्पोरेटर ने 14% ग्रांट बेंचों पर खर्च की

मनपा चुनाव-2021 के लिए रविवार को मतदान होगा। चुनाव जीतने वाले फिर पांच साल मनपा में शासन करेंगे। वहीं पिछले टर्म में कॉर्पोरेटरों ने ग्रांट का उपयोग किस विकास कार्य में किया, इसका सर्वे एक सिटीजन ऑडिट ग्रुप ने कर आंकड़े सार्वजनिक किए हैं।

सबसे अधिक ग्रांट का उपयोग सड़कों के निर्माण पर किया
सिटीजन ऑडिट ग्रुप के अनुसार 29 वार्डों के 116 कॉर्पोरेटरों ने कुल ग्रांट के 14% हिस्से का उपयोग बेंचों पर किया। ट्री गार्ड के लिए भाजपा ने 1% और कांग्रेस ने 3% ग्रांट का उपयोग किया। 5 साल में कुल ग्रांट का 52% निर्माण पर खर्च किया।

रोड विकास पर भाजपा-कांग्रेस पार्षदों ने बराबर खर्च किया
भाजपा के 80 कॉर्पोरेटरों ने रोड निर्माण पर 52% तो कांग्रेस के 36 कॉर्पोरेटरों ने कुल ग्रांट का 52% हिस्सा रोड विकास में खर्च किया है। भाजना ने पानी की लाइन के लिए 14% तो कांग्रेस ने 7 प्रतिशत ग्रांट का उपयोग किया।

पांच साल में मिली ग्रांट उपयोग करने में महिला कॉर्पोरेटर पीछे
50% सीटें महिला सदस्यों ने संभाली थी। महिला कॉर्पोरेटरों ने 48% ग्रांट रोड निर्माण पर तो 11% पानी की पाइप लाइन पर खर्च की। इसी तरह स्ट्रीट लाइट के लिए 8% और ड्रेनेज पर 4% खर्च की। बेंच के लिए महिला कॉर्पोरेटरों ने 7% ग्रांट खर्च की।

भाजपा ने 16,538 तो कांग्रेस पार्षदों ने 8,159 ट्री गार्ड लगाए
मनपा के कॉर्पोरेटरों ने ट्री गार्ड पर 1 प्रतिशत ग्रांट उपयोग की। भाजपा के पार्षदों ने 16,538 ट्री गार्ड तो ने 8,159 ट्री गार्ड लगवाए। भाजपा सदस्यों ने 9604 बेंच तो कांग्रेस सदस्यों ने ग्रांट से 5099 बेंच की सुविधा दी।

यह विश्लेषण शहरीजनों और लोक शिक्षण के लिए किया गया है। चुनाव से पहले उम्मीदवार द्वारा किए गए वादे और शासन में बैठने के बाद किए काम का मूल्यांकन किया है। यह मूल्यांकन जरूरी है और एक मजबूत लोकशाही का लक्षण है।
-अजय जांगीड, विश्लेषक, सिटीजन ऑडिट ग्रुप

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें