पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बेरोजगारी से परेशान बना अपराधी:तंगी के चलते पत्नी चली गई थी मायके वापस लाने को एटीएम ताेड़ा, पहुंचा जेल

सूरत13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूजा-पाठ के साथ केटरिंग का काम भी करता था, कोरोना के कारण हो गया था बेरोजगार

पांडेसरा के बाद महिधरपुरा क्षेत्र के एक एटीएम सेंटर में मशीन तोड़ कर चोरी करने की कोशिश का मामला सामने आया है। इस मामले में पुलिस ने आर्थिक तंगी से परेशान युवक को गिरफ्तार किया है। महिधरपुरा पुलिस के मुताबिक घटना दिल्ली गेट स्थित एचडीएफसी बैंक के एटीएम सेन्टर में हुई।

रविवार काे रात करीब डेढ़ बजे 26 वर्षीय युवक एटीएम सेन्टर में घुसा, उसने एटीएम मशीन का हुड, प्रेजेंट मॉड्यूल तोड़ कर मशीन से रुपए चुराने का प्रयास किया लेकिन सफल नहीं हो पाया। उसने मशीन को करीब 95 हजार रुपए का नुकसान पहुंचाया।

सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने बताया कि युवक ने सफेद टी शर्ट और स्लेटी पैंट पहने हुए था, हाथ में चांदी का एक ब्रेसलेट भी था। इस मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जिसके बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

कुछ दिन पूर्व ही पांडेसरा में भी एटीएम तोड़कर चोरी का प्रयास हुआ था। पुलिस ने बताया कि आरोपी पार्थ भीखा रावल, महिधरपुरा के शिवकृपा अपार्टमेंट में रहता था। उसने कबूल किया कि आर्थिक तंगी के कारण पत्नी उसे छोड़कर चली गई थी। उसे वापस लाने के लिए वह एटीएम तोड़कर पैसे चुराना चाहता था। लेकिन पुलिस की गाड़ी का सायरन सुन अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया।

वारदात में इस्तेमाल स्कूटी के नंबर से आरोपी तक पहुंची पुलिस

जब पार्थ ने एटीएम तोड़ने का प्रयास किया तब मुंबई के हेडक्वार्टर में अलार्म बजने लगा। जिसके बाद सूरत के बैंक कर्मचारियों को इसकी जानकारी दी गई। हालांकि जब आधे घंटे तक कर्मचारियों को एटीएम नहीं मिला तो उन्होंने पुलिस से संपर्क किया, आरोपी तोड़ने का प्रयास कर रह रहा था। लेकिन पुलिस की गाड़ी को आता देख वो अपनी स्कूटी छोड़कर वहां से भाग गया।

पुलिस ने स्कूटी के नंबर से आरोपी का घर ढूंढ लिया। लेकिन वो नहीं मिला। परिवार ने बताया कि रात को ही स्कूटी लेकर कहीं चला गया था। इसके बाद पुलिस को गुप्तचरों से जानकारी के अाधार पर आरोपी को महिधरपुरा से गिरफ्तार कर लिया।

पत्नी ज्वाइंट फैमली में नहीं रहना चाहती थी

जांच अधिकारी पीएसआई सरोज भुवा ने बताया कि 5 साल पहले पार्थ की शादी हुई थी। उसका एक चार साल का बच्चा भी है। वह अपने माता पिता और भाई के परिवार के साथ रहता था। जो उसकी पत्नी को पसंद नहीं था वह पार्थ पर दबाव देती थी कि उसे ज्वाइंट फैमली में नहीं रहना है। 12 दिन पहले ही उसकी पत्नी अपने बच्चे को लेकर मायके चली गई है और कहा कि नया घर लेने के बाद ही उसे लेने आएगा।

पैसा नहीं होने के कारण पत्नी पिछले कई महीनों से पार्थ को ताने मार रही थी, इसी से तंग आकर गलत राह चुना

आरोपी पार्थ अपने भाई और पिता के साथ केटरिंग का व्यापार करता था, लेकिन उसमें ज्यादा आमदनी नहीं होती थी। आरोपी अलग से कर्मकांडी पंडित था लेकिन पिछले एक साल से कोविड के कारण उसका काम अच्छे से नहीं चल रहा था। इसलिए उसकी पत्नी काफी समय से उसे परेशान करती थी और पैसे कमाने के लिए ताना मारा करती थी।

जल्दी पैसे कमाकर परिवार लाना चाहता था, बिना गार्ड के एटीएम दिखा तो चोरी की योजना बना ली

पत्नी के ताने के बाद पार्थ ने जल्दी पैसे कमाकर घर लेकर अपनी पत्नी और बच्चे को लेकर आना चाहता था। वह रातभर स्कूटी लेकर घूमता रहा। तभी उसे रस्ते में एक एटीएम दिखा, जिसके बाहर सिक्योरिटी गार्ड नहीं था इसलिए उसने उसे तोड़कर पैसे निकालने का सोचा था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें