• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • During The Online Class, A Student Is Seen Playing A Game While Watching An Adult Film, Parents Are Reaching The School With A Complaint

ऑनलाइन एजुकेशन से समस्या:ऑनलाइन क्लास के दौरान कोई स्टूडेंट एडल्ट फिल्म देखते तो कोई गेम खेलते मिल रहा, पेरेंट्स शिकायत लेकर पहुंच रहे स्कूल

सूरत4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अभिभावकों की मांग है कि बच्चों को होमवर्क दिया जाए। उन्हें ऑनलाइन में वीडियो जूमिंग से न पढ़ाया जाए। - Dainik Bhaskar
अभिभावकों की मांग है कि बच्चों को होमवर्क दिया जाए। उन्हें ऑनलाइन में वीडियो जूमिंग से न पढ़ाया जाए।

सरकार ने कोविड-19 की वजह से कक्षा 1 से 9 तक ऑनलाइन पढ़ाई का आदेश जारी किया है। इसी बीच अभिभावक अपने ही बच्चों की शिकायत लेकर स्कूल पहुंच रहे हैं। इन शिकायतों को देखते हुए स्कूल संचालक सरकार को ऑनलाइन एजुकेशन का नुकसान बताकर जल्द से जल्द ऑफलाइन एजुकेशन शुरू करने के लिए मांग करने वाले हैं। बच्चों की शिकायत लेकर स्कूलों में पहुंचने वाले अभिभावक क्लास टीचर और अन्य शिक्षकों से उनके कारनामों का जिक्र करने लगे हैं।

अभिभावकों की शिकायत है कि उनके बच्चे ऑनलाइन एजुकेशन के समय मोबाइल का गलत तरीके से इस्तेमाल करते हैं। अभिभावकों की मांग है कि बच्चों को होमवर्क करने के लिए दिया जाए। उन्हें ऑनलाइन में वीडियो जूमिंग से न पढ़ाया जाए।

क्या-क्या हैं शिकायतें

  • ऑनलाइन पढ़ाई के समय कुछ अभिभावकों ने अपने बच्चे को एडल्ट वीडियो देखते हुए पकड़ा। इसके बाद अभिभावकों ने मोबाइल छीन लिए और बच्चे की पिटाई की। अभिभावक ने बच्चे से दोबारा से ऑनलाइन पढ़ाई में शामिल नहीं होने के लिए भी कह दिया है ऐसी शिकायत अभिभावकों ने स्कूल से की है।
  • अभिभावकों की शिकायत है कि बच्चे अलग-अलग एप्लीकेशन से मोबाइल में गेम डाउनलोड कर लेते हैं और ऑनलाइन पढ़ाई के समय अपनी आवाज म्यूट करके गेम खेलते हैं। जब अभिभावक आकर बच्चों से पूछते हैं तो वे फिर ऑनलाइन पढ़ाई चालू कर देते हैं। एक अभिभावक के मुताबिक उन्होंने मोबाइल चेक किया तो पता चला कि बच्चे ने कई सारी चीजें मिनिमाइज की हुई थीं, जिनको वह मौका मिलने पर देखने लगता था।
  • ऑनलाइन पढ़ाई के नाम पर बच्चे अलग कमरे में जाते हैं और वहां मोबाइल साइड में रख कर सो जाते हैं।
  • लंबे समय तक मोबाइल देखने से कुछ बच्चों की आंखों में जलन की समस्या हो रही है। कई अभिभावकों ने स्कूलों से कहा है कि बच्चों के दो ऑनलाइन क्लास के बीच में ज्यादा गैप दिया जाना चाहिए।
  • ऑनलाइन एजुकेशन के समय कुछ बच्चे सोशल मीडिया पर सफरिंग करने लग रहे हैं। वहीं वीडियो और फोटा डाउनलोड करने में मोबाइल का पूरा डाटा खत्म कर देते हैं।

शिक्षकों ने बच्चों को डांट लगाई
इस मामले में शिक्षकों का कहना है कि कई अभिभावक ऐसी शिकायतें लेकर आए थे, लेकिन इस समय बच्चे घर पर ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं। एेसे में अभिभावकों की मदद करना मुश्किल है। बच्चे ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान क्या करते हैं, इसका हमें कैसे पता चलेगा। लेकिन अभिभावकों की शिकायत पर हमने बच्चों को फटकार लगाई है।

बच्चों की जैसी शिकायतें मिल रही हैं, ये काफी गंभीर मामला है। हम राज्य सरकार को इस मामले में आगाह करेंगे ताकि बच्चों को गलत ट्रैक पर जाने से बचाया जा सके।
- जगदीश चावला, सदस्य, स्कूल संचालक महासंघ

खबरें और भी हैं...