• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Elder Pretends To Kidnap Son To Implicate Younger Brother, 7 Police Teams Keep Searching

जमीन को लेकर दोनों भाइयों चल रहा विवाद:बड़े ने छोटे भाई को फंसाने के लिए बेटे के अपहरण का नाटक किया, पुलिस की 7 टीमें खोजती रहीं

सूरत3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पांडेसरा में 10 साल के बच्चे के अपहरण के मामले में स्थानीय पुलिस ने 5 घंटे के भीतर ही उसे ढूंढ निकाला। पुलिस के अनुसार माता-पिता ने इस बारे में झूठी शिकायत दी थी। दरअसल, बच्चे के पिता का अपने छोटे भाई से ही जमीन को लेकर झगड़ा चल रहा था। इसीलिए उसे फंसाने को अपने बेटे के अपहरण का झूठा नाटक किया। बच्चे को आरोपी ने अपनी पत्नी की सहेली के घर छोड़ दिया थाा। पांडेसरा पुलिस ने पति-पत्नी से पूछताछ की, इसमें कई बार अपने बयान बदले। इसी से संदेह हुआ।

पुलिस के मुताबिक 10 साल के बच्चे के पिता चंदन सिंह का अपने छोटे भाई लवकुश सिंह से जमीन का विवाद चल रहा है। यह जमीन बिहार में है। इसी को लेकर चंदन ने अपने छोटे भाई को फंसाने की याेजना बनाई। इसमें पत्नी को भी शामिल कर लिया। दोनों ने मिलकर अपने बेटे के ही अपहरण की योजना बना डाली। चंदन सिंह बेटे को शुक्रवार शाम को मां के पास मिलने के लिए भेजा, जहां वह सिलाई का काम करती है।

इधर, मां ने अपने बेटे को साथ में काम करने वाली सहेली जाे लिंबायत के त्रिकम नगर में रहती है, वहां भेज दिया। बच्चे की मां ने अपनी सहेली से कहा कि एक दिन के लिए बाहर जाना है, इसलिए बच्चे को अपने घर पर रख ले।

5 घंटे में पर्दाफाश, 200 सीसीटीवी, 500 घर खंगाले
पांडेसरा गोकुलधाम सोसायटी में रहने वाले चंदन सिंह ने शुक्रवार दोपहर से 10 साल के बेटे के गुम होने का नाटक करना शुरू कर दिया। दपंती ने शाम बच्चे की तलाशी का नाटक किया। देर रात करीब 12.30 बजे दंपती ने पांडेसरा पुलिस स्टेशन में अपहरण का मामला दर्ज करवाया। घटना की गंभीरता को देखते हुए पांडेसरा पुलिस और क्राइम ब्रांच स्टाफ के 50 कर्मियों की 7 टीम बनाई गई। इस दौरान 200 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे चेक किए गए। उसके अलावा 500 से ज्यादा घरों को भी देर रात चेक किया गया।

कलर का काम करने वाले युवक का अपहरण, एक लाख की फिरौती मांगी
रांदेर बोटावाला स्कूल के पास आयशा पैलेस में रहने वाले 26 वर्षीय मुबारक हुसैन का अपहरण कर एक लाख रुपए की फिरौती मांगने का मामला सामने आया है। हालांकि पुलिस को अभी तक युवक को कोई सुराग नहीं मिल पाया है। मिली जानकारी के मुताबिक युवक शुक्रवार की दोपहर बाइक पर कलर के काम के लिए जगह देखने के लिए गया था।

जब वह कामरेज में था तब अपनी पत्नी से उसकी बात भी हुई थी। देर रात तक जब घर नहीं आया तो पत्नी ने उसे फोन किया, लेकिन उसने रिसीव नहीं किया था। थोड़े समय के बाद पत्नी को सोशल मीडिया पर एक मैसेज मिला जो उसके ही पति के मोबाइल से आया था। इसमें धमकी दी गई कि तुम्‍हारा पति हमारे कब्जे में है। एक लाख रुपए दो और अपने पति को ले जाओ। साथ ही कहा कि पुलिस में सूचना दी तो इसे जान से मार देंगे। इस घटना के बाद पत्नी ने रांदेर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज करवाया है।

खबरें और भी हैं...