पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • Entire Building Being Closed Even After Getting A Case, It Is Spreading Panic Among People

सोसाइटी:एक केस मिलने पर भी बंद की जा रही पूरी बिल्डिंग, इससे लोगों में फैल रही है दहशत

सूरत15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में अब काेराेना महामारी से कम और मनपा की मनमानी कार्रवाई से लोग अधिक परेशान हैं। बिल्डिंग में एक पॉजिटिव केस आने के बाद हालात देखकर कार्रवाई करने की बात करने वाली महानगर पालिका मनमानी नियम थोप रही है। फ्लैट को सील करने की बजाय पूरी बिल्डिंग या सोसाइटी ही सील कर रही है। पिछले दिनों सिटी लाइट में स्थित सूर्या पैलेस में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद महानगर पालिका ने पूरी बिल्डिंग को सील कर दी थी।

मनपा की कार्रवाई काे लेकर लोगों ने हंगामा किया था। सोमवार को अठवा जोन के स्वास्थ्य सहायक निरीक्षक को सिटी लाइट में लोगों की नाराजगी झेलनी पड़ी। सोमवार को सुबह 10 बजे सूर्या पैलेस के बैंक्वेट हॉल में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने सिटी लाइट की 20 सोसाइटी के अध्यक्षों के साथ बैठक की। सोसाइटी के अध्यक्षों ने सहायक स्वास्थ्य निरीक्षक विजय भोंसले से कहा कि हम मनपा की पूरी तरह से मदद करने को तैयार हैं, लेकिन आप लोग भी तो कुछ कार्रवाई करें। हमारी बातों को सुनें।

मनमानी नियम थोपना कहां तक उचित है। बैठक में सिटीलाइट की 20 मुख्य सोसाइटी के संदीपभाई, नवीन जालान, वेद प्रकाश, विनोदभाई, धारेशभाई, विकास, कमल मानपानी, शिवभाई, सुशीलभाई, किशोर, सुरेश नायक, राजेंद्रभाई समेत 20 सोसाइटी के प्रमुख लोग मौजूद थे।

सूर्या पैलेस: चार केस मिलने पर सील किया ताे लोग भड़क गए

6 दिन पहले सूर्या पैलेस के ए-टावर में चार लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। मनपा ने शनिवार को पूरी बिल्डिंग सील कर दी। हालांकि सील करने के बाद भी बिल्डिंग में रहने वालों का बाहर आना-जाना बंद नहीं हुआ। बिल्डिंग को सील करने के बाद लोगों में भय का माहौल है। अग्रिम सूचना दिए बिना कार्रवाई किए जाने से लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया था। सूर्या पैलेस के सेक्रेटरी नवीन जालान ने बताया कि मनपा को पूरी बिल्डिंग नहीं सील करनी थी। इससे लोग डरे हुए हैं।

शिकायत: जहां केस मिलता है वहां से कचरा भी नहीं उठाया जाता

महानगर पालिका कोरोना को लेकर मनमानी कर रही है। बिल्डिंग या सोसाइटी को सील करने से पहले कोई सूचना भी नहीं दी जाती है। मनपा को रोकने वाला कोई नहीं है। इसका जवाब पालिका अधिकारियों को देना होगा। जिस फ्लैट में पॉजिटिव केस आता है वहां से कचरा नहीं लिया जाता। इसलिए वहां रहने वालों को मजबूरन घर से बाहर निकलना पड़ता है। लोगों का विश्वास बढ़े मनपा को ऐसा काम करना चाहिए।

एक पॉजिटिव केस पर मिलने पर पूरी बिल्डिंग को सील करना उचित नहीं है

एक परिवार के कारण 32 फ्लैट को सील करना कहां का निर्णय है। अहमदाबाद, वडोदरा और सूरत में सीलिंग के नियम अलग-अलग हैंै। जिस तरह से सूरत में सीलिंग की कार्रवाई हो रही है, ऐसा और कहीं नहीं है। फ्लैट होल्डरों ने कहा कि पूरी बिल्डिंग को मत सील कीजिए। जहां पाॅजिटिव केस आया है उसी फ्लैट को सील करिए। अगर, मरीज नियम तोड़ता है तो उससे 25 हजार रुपए जुर्माना वसूल कीजिए। हम सहयोग करेंगे।

स्वास्थ्य निरीक्षक बोले- लेटरपैड पर लिखकर जोन ऑफिस में शिकायत करो

सहायक स्वस्थ्य निरीक्षक विजय भोंसले ने कहा कि बिल्डिंग या सोसाइटी के अध्यक्ष अपने लेटरपैड पर लिखकर दें कि जिस मकान में पॉजिटिव केस आया है उसे ही क्लस्टर करें। क्वारैंटाइन के नियम का पालन नहीं करने पर 25 हजार जुर्माना नहीं भरते हैं तो सोसाइटी इसकी जिम्मेदारी लेगी। यह सब कुछ लेटरपैड पर लिखकर जोन ऑफिस में दो। जोनल ऑफिसर इस पर चर्चा करके आगे का निर्णय लेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें